राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सहित सभी दलों के नेताओं ने दी राहत इंदौरी को श्रद्धांजलि

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सहित सभी दलों के नेताओं ने दी राहत इंदौरी को श्रद्धांजलि


🗒 बुधवार, अगस्त 12 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सहित सभी दलों के नेताओं ने दी राहत इंदौरी को श्रद्धांजलि

दुनिया के जाने-माने शायर राहत इंदौरी के निधन पर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सहित सभी दलों के नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। राहत इंदौरी को दुनिया का शायर बताते हुए उनकी गजलों को भी सोशल मीडिया पर साझा किया। उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने राहत इंदौरी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। अपने शोक संदेश में कहा कि राहत इंदौरी का निधन उर्दू साहित्य जगत के लिए एक अपूरणीय क्षति है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए परिजनों के प्रति गहरी संवेदना एवं सहानुभूति व्यक्त की।उत्तर प्रदेश उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया कि मशहूर शायर एवं कवि राहत इंदौरी के निधन का अत्यंत दुखद समाचार प्राप्त हुआ। उनका निधन साहित्य जगत के लिए एक अपूरणीय क्षति है। मेरी ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को शांति व परिजनों को यह दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने ट्वीट में लिखा- मशहूर शायर राहत इंदौरी साहब का निधन हो गया है। वह कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे। उनकी गजल लोकतंत्र, धर्मनिरपेक्षता, समानता आदि के लिए हमेशा याद की जाती रहेंगी। एक शायरी साझा की- ये हादसा तो किसी दिन गुजरने वाला था। मैं बच भी जाता तो इक रोज मरने वाला था।बसपा प्रमुख मायावती ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि मशहूर अवामी शायर राहत इंदौरी के अचानक निधन की खबर अति-दुखद है। उनकी कमी को उर्दू अदब की दुनिया में पूरी करना शायद मुश्किल होगा। उनके शोक संतप्त परिवार व उनके करोड़ों चाहने वालों के प्रति मेरी गहरी संवेदना। कुदरत उन सबको इस दुख को सहन करने की शक्ति दे।सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इन शब्दों के साथ श्रद्धांजलि दी- यूं तो सारी दुनिया के थे, बस कहने को इंदौरी थे। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने ट्वीट किया- अपनी शायरी से करोड़ों दिलों पर राज करने वाले मशहूर शायर राहत इंदौरी साहब के निधन की सूचना से आहत हूं। ईश्वर शोकाकुल परिजनों को इस दुख को सहन करने की शक्ति दें। आप ही के शब्द पुष्प थे- मैं मर जाऊं तो मेरी एक अलग पहचान लिख देना। लहू से मेरी पेशानी पे हिंदुस्तान लिख देना।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» प्रदेश में घटी संक्रमण दर, 1.22 लाख टेस्ट में 0.2 फीसद पॉजिटिव

» यूपी में वाहनों पर क्रैश गार्ड लगाकर चलना पड़ेगा भारी, 31 के बाद देना होगा पांच हजार जुर्माना

» योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में फेरबदल की सुगबुगाहट से बढ़ी बेचैनी, आधा दर्जन मंत्रि‍योंं की कुर्सी खतरे में

» लखनऊ में मकान के बेसमेंट में चल रहे अवैध टेंट गोदाम में लगी भीषण आग, दो बच्‍चे जिंदा जले

» राजभवन पर किसानों के प्रदर्शन को लेकर लखनऊ में हाई अलर्ट, राजभवन में पहुंचे शीर्ष अधिकारी

 

नवीन समाचार व लेख

» प्रदेश में घटी संक्रमण दर, 1.22 लाख टेस्ट में 0.2 फीसद पॉजिटिव

» यूपी में वाहनों पर क्रैश गार्ड लगाकर चलना पड़ेगा भारी, 31 के बाद देना होगा पांच हजार जुर्माना

» उन्‍नाव में साक्षी महाराज का कांग्रेस पर हमला, कहा-कांग्रेसी नेता ने ही कराई थी सुभाष चंद्र बोस की हत्या

» योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में फेरबदल की सुगबुगाहट से बढ़ी बेचैनी, आधा दर्जन मंत्रि‍योंं की कुर्सी खतरे में

» पराक्रम दिवस समारोह में बोले मोदी, 'कोलकाता आना भावुक कर देने वाला क्षण'