यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कोरोना आपदा के बीच भी बीते अगस्त की तुलना में इस वर्ष 600 करोड़ की राजस्व वृद्धि


🗒 गुरुवार, सितंबर 03 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कोरोना आपदा के बीच भी बीते अगस्त की तुलना में इस वर्ष 600 करोड़ की राजस्व वृद्धि

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते प्रसार पर अंकुश लगाने के प्रयास के बीच में भी उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था ने अपनी रफ्तार पकड़ ली है। प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने बताया कि पिछले साल अगस्त की तुलना में इस वर्ष अगस्त में राज्य के कर राजस्व में 600 करोड़ रुपए की वृद्धि हुई है।वित्त मंत्री ने बताया कि अगस्त 2019 में विभिन्न मदों में 8942 करोड़ों रुपए का का राजस्व प्राप्त हुआ था। वहीं अगस्त 2020 में इन मदों में 9545 करोड़ रुपए का राजस्व मिला है। उन्होंने बताया कि जुलाई में भी हमने लक्ष्य का करीब 97 प्रतिशत राजस्व प्राप्त किया। उन्होंने बताया कि अगस्त में हमने जीएसटी/वैट से बीते वर्ष के 5126.56 करोड़ की अपेक्षा इस वर्ष 5329.85 करोड़ रुपया का राजस्व प्राप्त किया है। यह परिणाम काफी उत्साहवर्धक है। उन्होंने कहा कि हमको खनन के साथ ही आबकारी तथा स्टाम्प व पंजीयन विभाग से काफी राजस्व प्राप्त हो रहा है।प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि आर्थिक गतिविधियों को पटरी पर लाते हुए पूर्व की भांति तेजी से संचालित किया जा रहा है। वर्तमान वित्तीय वर्ष के माह जुलाई में आर्थिक गतिविधियों के बेहतर होने का सिलसिला अगस्त, 2020 में भी जारी रहा और राजस्व का संग्रह भी बढ़ा है। उन्होंने कहा कि अगस्त, 2019 के सापेक्ष अगस्त, 2020 में प्रदेश सरकार के राजस्व में 600 करोड़ रुपये से अधिक की वृद्धि हुई है। अगस्त, 2019 में विभिन्न मदों के अन्तर्गत 8942.76 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था। अगस्त, 2020 में इन मदों में कुल 9545.21 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रहीत हुआ। वित्त मंत्री ने कहा कि जीएसटी/वैट के तहत अगस्त, 2019 में 5126.56 करोड़ रुपये की प्राप्ति हुई थी। अगस्त, 2020 में इस मद में राजस्व संग्रह बढ़कर 5329.58 करोड़ रुपये हो गया है। माह अगस्त, 2020 में जीएसटी के तहत 3497.98 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रह हुआ है। इसमें एसजीएसटी से प्राप्त 1659.81 करोड़ रुपये तथा आईजीएसटी से प्राप्त 1838.17 करोड़ रुपये का राजस्व सम्मिलित है। वित्त मंत्री ने कहा कि वैट के अन्तर्गत जहां अगस्त, 2019 में 1604.26 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था, अगस्त, 2020 में इस मद में राजस्व संग्रह बढ़कर 1831.60 करोड़ रुपये हो गया है। इसी प्रकार, आबकारी के अन्तर्गत अगस्त, 2019 में 1882.33 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रहीत हुआ था। अगस्त, 2020 में इस मद में बढ़ोत्तरी दर्ज करते हुए 2310.27 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है। भू-तत्व एवं खनिकर्म में अगस्त, 2019 में 109.56 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था। अगस्त, 2020 में इस मद में 171.53 करोड़ रुपये की राजस्व प्राप्ति हुई, जो कि अगस्त, 2019 में संग्रहीत राशि से अधिक है। उन्होंने बताया अगस्त, 2020 में स्टाम्प तथा निबन्धन में 1301.92 करोड़ रुपये तथा परिवहन मद में 431.91 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रहीत हुआसुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि भारत सरकार के अनलॉक-4 के संबंध में जारी गाइडलाइन के क्रम में प्रदेश सरकार ने भी अनलॉक-4 की गाइडलाइन जारी कर दी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रतिदिन टीम-11 की बैठक के माध्यम से स्थिति का जायजा लेते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का उद्देश्य है कि हर संक्रमित को कम से कम समय में हॉस्पिटल पहुंचा कर त्वरित इलाज कराया जाए। प्रदेश में कोरोना की स्थिति पर नियंत्रण के लिए इस समय प्रतिदिन लगभग 1.40 से 1.50 लाख तक टेस्ट किए जा रहे हैं, जो कि देश में टेस्टिंग फैसिलिटी के मामले में सर्वाधिक है। उन्होंने बताया कि कल तक प्रदेश में 59,13,584 टेस्ट किए गए हैं जो देश में सर्वाधिक हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश के अन्य राज्यों के मुकाबले आर्थिक स्थिति को मजबूत कर रहा है। यह तो तय है कि अगर आर्थिक स्थिति ठीक रहती है तो सारा काम ठीक हो जाता है। प्रदेश में अब सिर्फ एक दिन यानी रविवार की बंदी की गई है। सरकार कोरोना के कहर से निपटने की काफी मजबूत तैयारी कर चुकी है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अगस्त, 2019 के सापेक्ष अगस्त, 2020 में प्रदेश सरकार के राजस्व में लगभग 600 करोड़ रुपया की वृद्धि पर संतोष व्यक्त किया। प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य तथा चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना कोरोना वायरस के खिलाफ अभियान में सीएम योगी आदित्यनाथ की टीम के सक्रिय सदस्य हैं। वह अपनी जांच कराने के बाद होम आइसोलेट भी थे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» कोरोना काल में आठ फीसद बढ़े इरिटेंट डर्माटाइटिस के मामले; एग्जिमा का भी खतरा

» बिल जमा करने के 12 घंटे बाद पुराने लखनऊ में आई बिजली, उपभोक्ता हुए परेशान

» ट्रांसफर-पोस्टिंग डील में दोषी मिले IPS अजय पाल शर्मा व हिमांशु कुमार पर FIR, अब निलंबन की तलवार

» केजीएमयू के डॉक्टरों ने दी नई ज‍िंंदगी ,

» पूर्वांचल में बाढ़ की समस्या के स्थायी समाधान के लिए बनाएं योजना - सीएम योगी