यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कोरोना के नाम पर सिविल के डॉक्टर से वसूले चार दिन में सवा लाख, डॉक्टर को निजी अस्पताल ने लगाया चूना


🗒 गुरुवार, सितंबर 03 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कोरोना के नाम पर सिविल के डॉक्टर से वसूले चार दिन में सवा लाख, डॉक्टर को निजी अस्पताल ने लगाया चूना

राजधानी के कई निजी अस्पतालों में कोरोना के नाम पर लूट मची हुई है। कहीं आइसोलेशन व इलाज के बहाने मरीजों की जेब पर भारी भरकम चूना लगाया जा रहा है। ताजा मामले में सिविल अस्पताल के ही वरिष्ठ फिजीशियन डॉ एससी मौर्या को निजी अस्पताल ने चूना लगाया है।दरअसल वह गोमतीनगर में घर के पास स्थित एक निजी अस्पताल में अपने पिताजी को भर्ती कराए थे। उनसे चार दिन में ही अस्पताल ने कोविड इलाज के नाम पर करीब सवा लाख रुपये की वसूली कर ली। इसके बाद उन्हें सरकारी संस्थान में अपने पिताजी को रेफर करवाना पड़ा।उन्होंने बताया कि मेरे पिता की स्थिति इतनी गड़बड़ भी नहीं थी। उनका ऑक्सीजन लेवल 90 के ऊपर बना हुआ था। उन्हें नौ अगस्त को भर्ती कराया गया था। वह वेंटिलेटर पर भी नहीं थे। इसके बावजूद कंसल्टेंसी के नाम पर चार ही दिन में सवा लाख रुपये की वसूली की गई। जबकि सरकार व स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोविड-19 का रेट निर्धारित है। इसके बावजूद निजी अस्पताल इसका पालन नहीं कर रहे हैं। वहीं राजधानी के वकील अजय सिंह ने भी अपनी पत्नी को उसी निजी अस्पताल में एडमिट कराया था, जहां उनसे दो दिन में डेढ़ लाख रुपये की वसूली की गई। आखिरकार उनकी पत्नी की मौत भी हो गई। उन्होंने कहा कि कहीं शिकायत इसलिए नहीं किया कि जब पत्नी को इलाज की जरूरत थी तो लोहिया, केजीएमयू पीजीआइ से लेकर अन्य निजी अस्पतालों में भी दौड़ा। कोई एडमिट करने को तैयार नहीं हुआ। उनका ऑक्सीजन लेवल लगातार गिर रहा था। गोमती नगर के अस्पताल में वह एडमिट हुई। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ में ट्रक से टकराने के बाद कार में लगी आग, दो लोगों की मौके पर ही मौत

» लखनऊ के बीकेटी में करंट लगने से दो बहनों की मौत, एक की हालत गंभीर

» आइपीएस नवनीत सिकेरा पर अभद्र टिप्पणी करने वाले इंस्पेक्टर के खिलाफ कसा शिकंजा, लगेगी चार्जशीट

» मरीन ड्राइव पर सजाई 'महफ‍िल', हंगामे के बाद पुल‍िस ने क‍िया चालान;

» जालसाजी के आरोप में हिस्ट्रीशीटर दुर्गेश के चार साथी गिरफ्तार, नौकरी के लिए ठगे थे लाखों रुपये

 

नवीन समाचार व लेख

» सहारनपुर मे दिनदहाड़े युवक की ताबड़तोड़ चाकू घोंपकर हत्या

» रिमांड खत्म होने के बाद फिर जेल भेजी गई हीर खान

» बीएचयू कोविड-19 वार्ड से एक और मरीज लापता होने के बाद हंगामा

» बलिया के रसड़ा में पुलिस पर पथराव, एएसपी, सीओ समेत आधा दर्जन जवान घायल

» मऊ में मुख्तार अंसारी वसूली गैंग के गुर्गे के एक करोड़ से अधिक के नौ वाहन सीज