यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले, कोरोना के खिलाफ जंग के बीच जारी रहेगी विकास यात्रा


🗒 रविवार, सितंबर 13 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले, कोरोना के खिलाफ जंग के बीच जारी रहेगी विकास यात्रा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि जब तक कोविड-19 की कोई वैक्सीन नहीं आ जाती, तब तक बचाव और जागरूकता का क्रम जारी रखना होगा। कोरोना की इस जंग के साथ प्रदेश की विकास यात्रा जारी रहेगी। उन्होंने आश्वस्त किया कि पैसे के अभाव में कोई काम नहीं रुकेगा। स्थानीय स्तर से विकास के नए प्रस्ताव भेजें। जो काम चल रहे हैं, उनकी गुणवत्ता और समयबद्धता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से आजमगढ़ मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। आजमगढ़, बलिया और मऊ में प्रस्तावित और जारी विभिन्न योजनाओं की प्रगति का विवरण लिया। जनप्रतिनिधियों से फीडबैक लिया।पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे और गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे की समीक्षा करते हुए कहा कि यह परियोजना पूर्वी उत्तरप्रदेश के विकास को रफ्तार देने वाली है। इससे जुड़े हुए प्रकरण लंबित न रखें। विभागाध्यक्षों को निर्देशित किया कि कार्यदायी संस्था के चयन से पहले संस्था के संसाधनों की परख जरूर की जाए। योगी ने मनरेगा से तालाबों के पुनरुद्धार के प्रयास करने के लिए कहा। साथ ही बलिया में प्रस्तावित राजकीय मेडिकल कॉलेज के लिए जल्द भूमि चयन करने के निर्देश दिए।अवैध कब्जों और भ्रष्टाचार पर सरकार लगातार कार्रवाई कर रही है। योगी ने अधिकारियों से कहा कि भ्रष्टाचार और अवैध कब्जे की शिकायतों का त्वरित निस्तारण हो। जहां विवाद की आशंका हो, वहां निरोधात्मक कार्रवाई करें। आजमगढ़ मंडल से संबंधित शासन स्तर पर लंबित प्रकरणों पर शीघ्र निर्णय के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि वरासत संबंधी प्रकरण कतई लंबित न रहें।योगी ने कोविड में संक्रमण प्रसार को नियंत्रित रखने में सफलता पर बलिया जिले की सराहना की। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फूलपुर, राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज, आजमगढ़ में निर्माणाधीन भवनों का काम जल्द पूरा करने के निर्देश दिए।मुख्यमंत्री ने मऊ जिले की बदहाल सड़कों का भी जिक्र किया। कहा कि लंबे समय तक यहां गड़बड़ी चलती रही है। अब ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने अपर मुख्य सचिव लोक निर्माण विभाग को निर्देशित किया कि योग्य और कर्मठ अधिकारियों को मऊ में तैनात करें। मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों से समन्वय का पाठ इस बैठक में भी अफसरों को पढ़ाया। बैठक में सांसद नीरज शेखर, सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त, बलिया से विधायक सुरेंद्र सिंह के अलावा संबंधित जिलों के प्रभारी मंत्री दारा सिंह चौहान, उपेंद्र तिवारी और आनंद स्वरुप शुक्ला भी ऑनलाइन जुड़े थे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» बूथ होगा पार्टी की संगठनात्मक गतिविधियों का केंद्र - स्वतंत्र देव सिंह

» लखनऊ पहुंचे संघ प्रमुख मोहन भागवत, अवध प्रांत में कोराना काल में किये गए कार्यों की करेंगे समीक्षा

» सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा- उत्तर प्रदेश में बदलने वाली नहीं पुलिस की कार्यशैली

» स्वामी रामभद्राचार्य ने जीती कोरोना से जंग, 22 दिन बाद मिली पीजीआइ से छुट्टी

» लखनऊ में तोते और मुनिया बेचने वाले दो लोगों को वन विभाग ने किया गिरफ्तार

 

नवीन समाचार व लेख

» एडीजी बोले- कोई कितना पावरफुल क्यों न हो, बख्शा नहीं जाएगा

» बूथ होगा पार्टी की संगठनात्मक गतिविधियों का केंद्र - स्वतंत्र देव सिंह

» लखनऊ पहुंचे संघ प्रमुख मोहन भागवत, अवध प्रांत में कोराना काल में किये गए कार्यों की करेंगे समीक्षा

» सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा- उत्तर प्रदेश में बदलने वाली नहीं पुलिस की कार्यशैली

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले, कोरोना के खिलाफ जंग के बीच जारी रहेगी विकास यात्रा