यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन


🗒 शुक्रवार, सितंबर 18 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन

समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से भेंट पर उनको ज्ञापन सौंपा। समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल के साथ तीन विधान परिषद सदस्यों से राज्यपाल ने करीब एक घंटा तक वार्ता की।समाजवादी पार्टी के एक पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमण्डल ने शुक्रवार को राज्यपाल आनंदी बेन पटेल से राजभवन में मुलाकात की। इस दौरान प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को प्रदेश में समाजवादी पार्टी के नेताओं के बढ़ते उत्पीड़न के साथ प्रदेश की बिगड़ी कानून व्यवस्था, युवाओं में बेजरोगारी तथा कोरोना महामारी के नाम पर हो रहे भ्रष्टाचार को लेकर ज्ञापन सौंपा।राज्यपाल को ज्ञापन देने गए इस प्रतिनिधिमण्डल में सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, एमएलसी आनंद भदौरिया, सुनील साजन तथा उदयवीर सिंह थे। एमएलसी सुनील सिंह ने बताया कि हमने राज्यपाल से भेंट की। इस दौरान उनको बताया कि पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां के साथ ही प्रदेश में इन दिनों समाजवादी पार्टी के नेताओं का जमकर उत्पीड़न हो रहा है। प्रदेश की कानून-व्यवस्था काफी बिगड़ चुकी है। दिन-दहाड़े लूट तथा हत्या व दुष्कर्म के मामले आम हो गए हैं। इसके साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के नाम पर लूट हो रही है। प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है। संकट में भी भ्रष्टाचार का अवसर खोजा गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ उनकी टीम-11, सभी जिलाधिकारी व सीएमओ जमकर लूटपाट में लगे हैं। इन सभी को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संरक्षण प्राप्त है।एमएलसी सुनील सिंह साजन ने कहा कि प्रदेश में रोजगार मांगने वाले युवा पर लाठियां बरसाई जा रही है। बेहद कठिन समय में भी युवा का हाल लेने वाला कोई भी नहीं है। सीएम योगी आदित्यनाथ सिर्फ एक काम समीक्षा बड़ी गंभीरता से कर रहे हैं। इसके बाद कोरी घोषणा की झड़ी लगा देते हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ को तो अब ही गुनहगार को सजा देनी चाहिए, लेकिन वह तो गुनहगारों के संरक्षक बन गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार तो अब बदले की भावना से काम कर रही है। कोई इनके गलत काम पर उंगली उठाने का काम नहीं कर सकता है। उसका दमन हो जाता है।  

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» अवध बार एसोसिएशन ने फिजिकल हियरिंग की पुन: उठाई मांग,

» यूपी उपचुनाव में सहानुभूति कार्ड चलेगी भाजपा, 14 अक्टूबर तक घोषित होंगे उम्मीदवार

» उत्तर प्रदेश में 1.72 लाख की कोविड-19 टेस्ट में मिले 3348 नए संक्रमित केस

» देवरिया में कांग्रेस की महिला नेता से मारपीट के मामले में दो निलंबित

» लखनऊ में 10 हजार रुपये के लिए मां को तमंचा लेकर बेटे ने दौड़ाया, घेराबंदी कर आरोपित दबोचा गया

 

नवीन समाचार व लेख

» अवध बार एसोसिएशन ने फिजिकल हियरिंग की पुन: उठाई मांग,

» देवरिया में कांग्रेस जिलाध्यक्ष व उपाध्यक्ष पर महिला नेता ने दर्ज कराया छेड़खानी का मुकदमा

» यूपी उपचुनाव में सहानुभूति कार्ड चलेगी भाजपा, 14 अक्टूबर तक घोषित होंगे उम्मीदवार

» कानपुर के बजरिया में ओला बाइक चालक की हत्या,

» कन्नौज की तिर्वा कोतवाली में अनोखा मामला,भैंस ने खुद सुलझाया अपना केस