यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ में फजाल अंसारी एलडीए वीसी से मिलने पहुंचे


🗒 सोमवार, सितंबर 28 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लखनऊ में फजाल अंसारी एलडीए वीसी से मिलने पहुंचे

डालीबाग के गाटा संख्या 93 सरकारी जमीन पर बने सात हजार वर्ग मीटर के मकान को बचाने के लिए माफिया मुख्तार अंसारी के बड़े भाई सांसद अफजाल अंसारी परिवार के साथ एलडीए वीसी से सोमवार को एक बार फिर से मिलने पहुंचे। करीब ढाई घंटे तक एलडीए वीसी शिवाकांत द्विवेदी और अफजाल अंसारी उलझे रहे। अफजाल अंसारी ने अनेक कागज प्रस्तुत किए और बताया कि उनका मकान गाटा संख्या 93 पर नहीं है। उनका मकान वैध जमीन पर है। जिसको सबसे पहले निष्क्रांत संपत्ति की नीलामी में भारत सरकार से खरीदा गया था। नक्शा भी पास है। कुछ भी अवैध नहीं है। फिलहाल एलडीए वीसी ने इस मामले में अगली तारीख अब तक नहीं तय की है।एलडीए ने एक सितंबर को अफजाल की पत्नी के नाम नोटिस काटा था। जिसमें उनको पहले 14 सितंबर की तारीख सुनवाई के लिए मिली थी। तब अंसारी ने सात दिन का समय मांगा था। दूसरी सुनवाई 21 सितंबर को हुई थी। जिसके बाद उनको एक बार से आज की तारीख मिली थी, करीब 12 बजे अफजाल परिवार के साथ एलडीए वीसी शिवकांत द्विवेदी के सामने पेश हुए। पिछली सुनवाई में अफजाल अंसारी ने बताया था कि उन्होंने ये जमीन वैध तरीके से खरीदी थी और उस पर शमन मानचित्र भी पास करवाया था। ये भारत सरकार की नीलामी में खरीदी गई थी। जिसके बाद तीसरी रजिस्ट्री उनकी पत्नी को की गई है।मुख्तार अंसारी की भाभी फरहत अंसारी के डालीबाग स्थित सरकारी जमीन पर किए गए अवैध निर्माण को ढहाने की तैयारी शुरू कर दी है। जिसके पहले चरण में इस भवन का शमन मानचित्र निरस्त किया जाएगा। एलडीए ने एक सितम्बर को इस बाबत मुख्तार के बड़े भाई अफजाल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी को नोटिस दे दी थी।उप्र नगर विकास नगर योजना एवं विकास अधिनियम 1973 की धारा-15 के तहत ये नोटिस जारी की थी। जिसमें किसी भी जारी मानचित्र को निरस्त किया जाता है। 14 दिन के भीतर फरहत अंसारी को इस बात का जवाब एलडीए के वीसी के समक्ष देना था। जहां उनको बताना था कि ये नक्शा क्यों न निरस्त कर दिया जाए। नक्शा निरस्त होने के बाद एलडीए भवन के खिलाफ ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू करेगा।अफजाल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी के नाम पर डालीबाग में करीब आठ हजार वर्ग फीट में बने किलानुमान मकान पहले बिना नक्शा पास करवाए ही बनवा लिया गया था। बनवाने के बाद रसूख औीर फर्जी कागजों की दम पर एलडीए से नक्शा भी पास करवाया गया। ये कंपाउंडिंग मैप साल 2007 में पास करवाया गया था। निर्माण पूरा होने पर कोई कार्रवाई न कर के नक्शा पास कर दिया गया था। गाटा संख्या 93 की सभी खातेदारी निरस्त होने के बाद एलडीए अब इस मानचित्र को निरस्त करने की तैयारी में लगा हुआ है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने NPCL और टोरेंट पावर के करार का ब्योरा किया तलब, UPPCL अध्यक्ष से मांगा जवाब

» केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल व सीएम योगी आदित्यनाथ ने जताया शोक

» लखनऊ में पुल‍िस ने जालसाज को पांच साल बाद दबोचा, चेक क्लोनिंग कर बैंक से न‍िकाले 1.25 लाख रुपये,

» अमीनाबाद-विकासनगर में बर्तन चमकाने का झांसा देकर घर में घुसे टप्पेबाज, जेवर लेकर भागे

» लखनऊ में भूमाफिया राम सिंह यादव पर बड़ी कार्रवाई, पुल‍िस ने जब्‍त की 83 करोड़ की संपत्ति

 

नवीन समाचार व लेख

» केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल व सीएम योगी आदित्यनाथ ने जताया शोक

» इलाहाबाद हाई कोर्ट ने यूपी में अवैध निर्माण को नियमित करने की कंपाउंडिंग स्कीम-2020 पर लगाई रोक

» अफगानिस्तान में स्थायी संघर्ष विराम का स्वागत करेगा भारत लेकिन अपने हितों को लेकर भी सतर्क

» सीतापुर में युवती को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाने के मामले में मुख्य आरोपित व मां-बाप समेत पांच गिरफ्तार

» भड़काऊ भाषण देने के मामले में कांग्रेस नेता श्योराज जीवन गिरफ्तार