यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ में 10 हजार रुपये के लिए मां को तमंचा लेकर बेटे ने दौड़ाया, घेराबंदी कर आरोपित दबोचा गया


🗒 रविवार, अक्टूबर 11 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लखनऊ में 10 हजार रुपये के लिए मां को तमंचा लेकर बेटे ने दौड़ाया, घेराबंदी कर आरोपित दबोचा गया

लखनऊ, राजधानी में 10 हजार रुपये देने से मना करने पर नशेबाज बेटे ने मां को तमंचा लेकर उन्हें दौड़ा लिया। नशे में धुत बेटे का यह रूप देखकर गांव वाले भी दहशत में आ गए। किसी ने कंट्रोल रूम को सूचना दी तो पीआरबी के पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे। उन्होंने घेराबंदी करके आरोपित को गिरफ्तार कर उसके पास से तमंचा बरामद कर लिया।मामला ठाकुरगंज के भुंवर गांव का है। यहां के निवासी रामावती का बेटा विशाल नशे का लती है। कई दिनों से उनसे 10 हजार रुपए की मांग कर रहा था। रविवार दोपहर बाद भी वह रामावती से रुपये मांग रहा था। रामावती ने मना कर दिया। इसके बाद वह चला गया। देर शाम फिर घर पहुंचा और रुपयों की मांग की। विरोध पर उन्हें घर से बाहर निकाल दिया। इसके बाद कमर में लगा तमंचा निकाला और मां को दौड़ा लिया। रामावती जान बचाने की गुहार करते हुए भाग रही थी और विशाल उन्हें जान से मारने की नियत से दौड़ाता रहा। यह देख ग्रामीणों की भी हिम्मत विशाल को पकड़ने की नहीं हुई। इस बीच एक ग्रामीण ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दे दी। मौके पर पीआरबी 2459 के पुलिस कर्मी और लालाबाग चौकी प्रभारी विनय मिश्रा, रिंग रोड चौकी प्रभारी जगदीश पांडेय पहुंचे। उन्होंने सूझबूझ के साथ पीआरबी कमांडर विवेक भारती, दारोगा प्रियंका मिश्रा और चालक राजेंद्र मौर्या के साथ मिलकर घेराबंदी कर विशाल को दबोच लिया। पकड़े जाने पर विशाल पुलिस टीम से भी अभद्रता करने लगा। इस पर पुलिस उसे गिरफ्तार कर थाने ले गई। पास से तमंचा भी बरामद कर लिया।बेटी की यह हरकत देख रामावती फूट-फूटकर रोने लगी। उन्होंने पुलिस कर्मियों को बताया कि पति सुंदर की कई साल पहले मौत हो गई थी। बेटा नशे का लती है। आए दिन वह रुपयों की मांग करता है। रामावती ने बताया कि कुछ दिन पहले उन्होंने अपनी थोड़ी पुश्तैनी जमीन बेची थी। बेटे को इसकी जानकारी थी। इस लिए वह आए दिन नशे के लिए रुपयों की मांग करता रहता है। वह मारपीट भी करता था। उन्होंने बताया कि वह घर खर्च चलाने के लिए घरों में काम करती हैं जबकि बेटा कुछ नहीं करता है।वहीं, कमिश्नर सुजीत पांडेय ने तत्परता से मौके पर पहुंचकर वृद्धा की जान बजाने वाले पुलिस कर्मियों को एक-एक हजार रुपए का इनाम देने की घोषणा की।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» यूपी उपचुनाव में सहानुभूति कार्ड चलेगी भाजपा, 14 अक्टूबर तक घोषित होंगे उम्मीदवार

» उत्तर प्रदेश में 1.72 लाख की कोविड-19 टेस्ट में मिले 3348 नए संक्रमित केस

» देवरिया में कांग्रेस की महिला नेता से मारपीट के मामले में दो निलंबित

» लखनऊ में पुरानी रंजिश और कब्जेदारी के विवाद में मारी गई थी गोली, दो अज्ञात समेत 11 नामजद

» CBI ने केस दर्ज करने के बाद शुरू की विवेचना, गाजियाबाद यूनिट एक टीम पहुंची हाथरस

 

नवीन समाचार व लेख

» कानपुर के बजरिया में ओला बाइक चालक की हत्या,

» कन्नौज की तिर्वा कोतवाली में अनोखा मामला,भैंस ने खुद सुलझाया अपना केस

» बिजनौर मे नहर में गिरी बोलेरो, तहसीलदार सहित तीन की मौत

» विधायक विजय मिश्र के मोबाइल नंबर से पंचायत अध्‍यक्ष से मांगे 50 हजार, जांच में जुटी सर्विलांस टीम

» गाजीपुर में हिस्ट्रीशीटर की पत्नी को मारी गोली, एक हिरासत में