यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अभी पूरी नहीं हुई हाथरस कांड की SIT जांच, एक बार फिर मांग सकती है और समय


🗒 गुरुवार, अक्टूबर 15 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
अभी पूरी नहीं हुई हाथरस कांड की SIT जांच, एक बार फिर मांग सकती है और समय

लखनऊ,उत्तर प्रदेश के बहुचर्चित हाथरस कांड में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआइ) जांच शुरू होने के साथ ही सचिव गृह भगवान स्वरूप की अध्यक्षता में गठित विशेष जांच दल (एसआइटी) भी प्रकरण में पुलिस भूमिका को लेकर अपनी जांच करने में जुटी है। एसआइटी जांच की मियाद शनिवार को पूरी हो रही है। सूत्रों का कहना है कि एसआइटी अभी अपनी जांच पूरी करने के लिए एक बार फिर समय सीमा बढ़ाने की मांग कर सकती है।हाथरस कांड की जांच कर रही एसआइटी पुलिस अधिकारियों और कर्मियों की भूमिका को लेकर अभी कुछ बिंदुओं पर जांच कर रही है, जिसके बाद वह अपनी रिपोर्ट को अंतिम रूप देने का काम शुरू करेगी। बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने 30 सितंबर को सचिव गृह भगवान स्वरूप की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय एसआइटी गठित की थी। एसआइटी में डीआइजी चंद्र प्रकाश और एसपी पूनम बतौर सदस्य शामिल हैं। एसआइटी को जांच के पहले सात दिनों का समय दिया गया था। बाद में एसआइटी को जांच पूरी करने के लिए 10 दिनों का अतिरिक्त समय दिया गया था, जिसकी मियाद 17 अक्टूबर को पूरी हो रही है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ में 'पति-पत्नी और वो' के चक्कर में हाईवोल्टेज ड्रामा

» उत्तर प्रदेश सवा करोड़ कोरोना वायरस टेस्ट करने वाला पहला राज्य बना

» दीपावली से पहले देनदारियों का भुगतान करें सभी विभाग - सीएम योगी

» सीएम योगी ने शोहदों व दुराचारियों के खिलाफ छेड़ा महाभियान, कहा- ऐसे लोगों के लिए यूपी में जगह नहीं

» सीएम योगी आदित्यनाथ का तकनीकी शिक्षा के साथ ही संस्कृत के विस्तार पर भी जोर

 

नवीन समाचार व लेख

» इलाहाबाद हाई कोर्ट ने बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों के शिक्षकों के अंतर जिला तबादले पर लगाई रोक

» बिकरू कांड में ईडी ने कानपुर में डाला डेरा, खंगालेगा विकास दुबे और जय की संपत्तियां

» हाथरस पुलिस ने चार लाख के गांजे के साथ दो तस्कर दबोचे

» मेरठ में पबजी खेलने से मना किया तो पिता की गर्दन पर किए कई वार, फिर खुद की गर्दन काटी

» वाराणसी में सड़क पर सो रहे चालक की अपने ही ट्रक के पहिये से दब कर मौत