यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की संक्रमण दर 2.2%, 2,610 नए रोगी मिले


🗒 शुक्रवार, अक्टूबर 16 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की संक्रमण दर 2.2%, 2,610 नए रोगी मिले

लखनऊ,उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की संक्रमण दर कम हो रही है। एक से 15 अक्टूबर तक के पखवाड़े में यह केवल 2.2 प्रतिशत ही पाई गई। शुक्रवार को उत्तर प्रदेश में 1.70 लाख लोगों की कोरोना जांच हुई तो 2,610 लोग संक्रमित पाए गए। बीते 24 घंटे में किए गए कोरोना टेस्ट में केवल 1.5 फीसद लोग ही संक्रमित मिले। प्रदेश में अब तक 4.49 लाख लोग कोरोना की चपेट में आए, जिसमें 4.08 लाख स्वस्थ हुए हैं। अब रिकवरी रेट 90.69 प्रतिशत है।स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि बीते 24 घंटे में 49 और लोगों की मौत के साथ अब तक कुल 6,589 लोगों की जान यह वायरस ले चुका है। नए रोगी कम मिलने और स्वस्थ होने वालों की संख्या ज्यादा होने के कारण अब एक्टिव केस घटकर 35,263 हो गए हैं। प्रदेश में अब तक 1.26 करोड़ लोगों की कोरोना जांच कराई जा चुकी है।कोरोना से संक्रमित हुए 4.49 लाख लोगों में से अब तक 60 वर्ष से अधिक उम्र के 9.57 प्रतिशत लोग संक्रमित हुए हैं, लेकिन जिन 6,589 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है, उनमें 45 प्रतिशत बुजुर्ग हैं। यानी जो बुजुर्ग कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं, उनकी जान बचाना मुश्किल हो रहा है। वहीं अब तक हुई कुल मौतों में 40 फीसद वे लोग हैं, जिनकी उम्र 40 से 60 वर्ष तक है। कोरोना से संक्रमित हुए कुल लोगों में से सबसे ज्यादा 47.61 फीसद 21 साल से 40 वर्ष तक की आयु वाले हैं, 29.06 प्रतिशत 41 वर्ष से 60 वर्ष तक की उम्र वाले और नवजात शिशु से लेकर 20 साल की आयु वाले 13.76 प्रतिशत लोग संक्रमित हैं।घर पर रहकर कोरोना का इलाज कराने वाले प्रदेश के 93 फीसद मरीज अब तक स्वस्थ हो चुके हैं। कोरोना की चपेट में आए कुल 4.49 लाख में से 2.49 लाख लोगों ने होम आइसोलेशन का विकल्प चुना था, जिसमें से 2.33 लाख ठीक हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग बिना लक्षण वाले उन रोगियों को घर पर रहकर इलाज कराने की छूट देता है, जिनके यहां अलग कमरा और शौचालय है।घर पर रहकर इलाज कराने वाले रोगियों की निगरानी रैपिड रिस्पांस टीम करती है, जबकि सरकारी डाक्टरों की देखरेख में इलाज किया जाता है। इस समय कोरोना के 35,263 एक्टिव केस में से 16,369 मरीज होम आइसोलेशन में अपना इलाज करा रहे हैं। प्राइवेट अस्पतालों में 2,994 मरीज हैं, जबकि बाकी सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। प्रदेश में अब तक 4.21 लाख मेडिकल टीमों की मदद से 13.40 करोड़ लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। सरकारी विभागों व निजी संस्थानों में 65,368 कोविड-19 हेल्पडेस्क बनाई गई हैं।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» CM योगी नवरात्र के पहले दिन महिलाओं व बालिकाओं की सुरक्षा के लिए 'मिशन शक्ति' अभियान का करेंगे शुभारंभ

» राजधानी में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शनकारी आप कार्यकर्ताओं पर झड़प के बाद लाठीचार्ज, कई गिरफ्तार

» लखनऊ में सपाइयों ने मुलायम सिंह यादव की दीर्घायु के लिए क‍िया हवन-पूजन

» उत्तर प्रदेश राज्य मानवाधिकार आयोग बांदा में मासूम से दरिंदगी पर सख्त, एसपी से मांगा जवाब

» शादी व लॉटरी का लालच दे करोड़ों ठगने वाले अंतरराष्ट्रीय गैंग का पर्दाफाश, चार नाइजीरियन गिरफ्तार

 

नवीन समाचार व लेख

» कानपुर मे खेत पर फसल काटने गई किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म, दो युवक गिरफ्तार

» हाथरस में युवक को चाकू मारने वाली युवती हिरासत में

» प्रयागराज मे खड़े ट्रक में जा घुसी बेकाबू डीसीएम, चालक समेत तीन की मौत,

» गाजीपुर में गंगा स्‍नान के लिए जा रही तीन महिलाओं की ट्रक से कुचलकर मौत

» लिया हत्याकांड में बड़ी कार्रवाई, SDM व CO के बाद अब तीन SI समेत आठ पुलिसकर्मी निलंबित