यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उत्तर प्रदेश राज्य मानवाधिकार आयोग बांदा में मासूम से दरिंदगी पर सख्त, एसपी से मांगा जवाब


🗒 शुक्रवार, अक्टूबर 16 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
उत्तर प्रदेश राज्य मानवाधिकार आयोग बांदा में मासूम से दरिंदगी पर सख्त, एसपी से मांगा जवाब

लखनऊ, उत्तर प्रदेश राज्य मानवाधिकार आयोग ने बांदा में मासूम से दरिंदगी की घटना को बेहद गंभीरता से लिया है। आयोग ने घटना का स्वत: संज्ञान लेकर एसपी बांदा को नोटिस जारी की है। चार सप्ताह में घटना में की गई कार्रवाई की विस्तृत रिपोर्ट तलब की गई है। आयोग ने मासूम के साथ हुई इस घटना को मानवाधिकार के हनन का प्रत्यक्ष उदाहरण माना है।बता दें बांदा में घर पर अकेली आठ साल की बच्ची के साथ दरिंदगी की घटना सामने आई है। पड़ोसी युवक ने मासूम के साथ हैवानियत की। चारा काट लौटी मां व दादी ने हालत देखी तो पैरों तले जमीन खिसक गई। पीड़ित बच्ची को उपचार के लिए कानपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बांदा पुलिस घटना की एफआइआर दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है।बांदा जिले के एक गांव में बुधवार शाम आठ वर्षीय बच्ची अपने घर में अकेली थी। उसकी मां मवेशियों के लिए घर से बाहर चारा काटने गई थी। उसकी दो छोटी बहनें व एक भाई घर के बाहर खेल रहे थे। अन्य सदस्य भी किसी न किसी काम से बाहर थे। पड़ोसी युवक शमशुद्दीन मौका देखकर घर के अंदर घुस गया। वहां उसने दरवाजे की कुंडी अंदर से बंदकर बच्ची के साथ दुष्कर्म किया।बच्ची के शोर मचाने का प्रयास करने पर आरोपित युवक ने मुंह बंद कर दिया। कुछ देर बाद जब मां व दादी खेत से चारा लेकर घर पहुंचीं तो बच्ची बिलखती मिली। मां के पूछने पर बच्ची ने आपबीती बताई। दुष्कर्म व पॉक्सो एक्ट की धारा में आरोपित युवक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है। बच्ची की हालत ठीक न होने से उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां से चिकित्सकों ने उसे प्राथमिक उपचार के बाद कानपुर रेफर कर दिया।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» यूपी सरकार ने छठ पूजा के लिए जारी की गाइडलाइन, घर पर पूजा करने की अपील

» सीएम योगी आदित्यनाथ बोले 'जय छठी मइया', राज्य कर्मियों ने मांगा सार्वजनिक अवकाश

» सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की शिक्षामित्रों की याचिकाएं, 37,339 पदों पर नियुक्ति का रास्ता साफ

» महिला मित्र के खिलाफ मुकदमा, पिता का आरोप- हत्या कर शव गोमती में फेंका

» जहरीली शराब कांड में जिला आबकारी अधिकारी हटाए गए, निरीक्षक निलंबित