यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मुख्य सचिव का कोविड-19 के अधिक पॉजिटीविटी रेट वाले जिलों में अधिक सक्रियता बरतने का निर्देश


🗒 सोमवार, अक्टूबर 26 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मुख्य सचिव का कोविड-19 के अधिक पॉजिटीविटी रेट वाले जिलों में अधिक सक्रियता बरतने का निर्देश

लखनऊ,  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अनुपस्थिति में मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने सोमवार को प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति तथा उसके निदान की समीक्षा की। लोक भवन में सम्पन्न इस बैठक में मुख्य सचिव ने अधिक पॉजिटीविटी रेट वाले जिलों में अतिरिक्त सक्रियता बरतने का निर्देश दिया है।समीक्षा बैठक में उन्होंने कोविड-19 की सैम्पलिंग, टेस्टिंग, कान्ट्रैक्ट ट्रेसिंग, बचाव एवं उपचार की व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ बनाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही सभी जगह पर कोविड-19 की सैम्पलिंग करते समय निर्धारित गाइडलाइन्स का पालन करने के साथ ही इसका व्यापक प्रसार करने का भी निर्देश दिया। मुख्य सचिव ने कहा कि सभी जगह पर सांस्कृतिक व सार्वजनिक आयोजनों में कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिये विशेष सावधानी बरती जाये। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के प्रोटोकॉल, सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का अनिवार्य रूप से प्रयोग आदि का कड़ाई अनुपालन सुनिश्चित कराया जाये।मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में कोविड-19 के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक में उन्होंने बचाव एवं उपचार की व्यवस्था के साथ कोविड संक्रमित मरीजों की मृत्यु दर में कमी लाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जिन जनपदों में पॉजिटीविटी रेट अधिक है, उन जनपदों में विशेष ध्यान दिया जाये और टेस्टिंग की संख्या बढ़ायी जाये। कोविड-19 की सैम्पलिंग करते समय निर्धारित गाइडलाइन्स का पालन किया जाये, ताकि कोई भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति जांच में छूटने न पाये।उन्होंने कहा चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग तथा चिकित्सा शिक्षा विभाग जनपदों में एक्सपर्ट की टीम भेजकर सैम्पलिंग, टेस्टिंग तथा ट्रीटमेंट की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करे। प्रदेश में कोविड-19 के संक्रमण में निरंतर गिरावट आ रही है, इसी कारण यह समय और अधिक सावधान रहने का है। सांस्कृतिक व सार्वजनिक आयोजनों में कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिये विशेष सावधानी बरती जाये। कोविड-19 के प्रोटोकॉल, सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का अनिवार्य रूप से प्रयोग आदि का कड़ाई अनुपालन सुनिश्चित कराया जाये।बैठक में अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ.रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य आलोक कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित संबंधित अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।