डिजिटल लाइब्रेरी में 35 हजार ई-कंटेंट मुफ्त में पढ़ सकेंगे छात्र, डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने किया लोकार्पण

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

डिजिटल लाइब्रेरी में 35 हजार ई-कंटेंट मुफ्त में पढ़ सकेंगे छात्र, डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने किया लोकार्पण


🗒 बुधवार, अक्टूबर 28 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
डिजिटल लाइब्रेरी में 35 हजार ई-कंटेंट मुफ्त में पढ़ सकेंगे छात्र, डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने किया लोकार्पण

लखनऊ , उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय व डिग्री कॉलेजों के विद्यार्थियों को अब डिजिटल लाइब्रेरी में मुफ्त में 35 हजार ई-पाठ्य सामग्री (ई-कंटेंट) पढ़ने का मौका मिलेगा। बुधवार को विधान भवन स्थित अपने कार्यालय में उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने उच्च शिक्षा विभाग द्वारा तैयार की गई डिजिटल लाइब्रेरी का लोकार्पण किया। इसके साथ-साथ उन्होंने ऑनलाइन संबद्धता पोर्टल का भी शुभारंभ किया।इस मौके पर उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि 134 विषयों के हिंदी व अंग्रेजी में ई-कंटेंट तैयार कर अपलोड किए गए हैं। ऐसे विद्यार्थी जो महंगी किताबें खरीदने में असमर्थ हैं, उन्हें इस लाइब्रेरी की मदद से बेहतर ई कंटेंट उपलब्ध हो सकेगा। 23 विश्वविद्यालयों की मदद से 1700 शिक्षाविद, शिक्षकों और विशेषज्ञों द्वारा तैयार किया गया है। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने ने कहा कि तकनीकी के प्रयोग से पारदर्शी व्यवस्था बनाए जाने पर लगातार जोर दिया जा रहा है। अभी कॉलेजों को ऑनलाइन एनओसी देने की व्यवस्था की गई है। अब नए सत्र से ऑनलाइन संबद्धता पोर्टल की मदद से सभी विश्वविद्यालय कॉलेजों को नए कोर्स शुरू करने की संबद्धता ऑनलाइन देंगे। कार्यक्रम में अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा मोनिका एस गर्ग भी मौजूद रहीं।

 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» कांग्रेस समेत कई दलों के नेता समाजवादी पार्टी में शामिल

» श्रीराम के जयकारे के साथ लखनऊ के ऐशबाग में जला रावण

» मौलाना कलीम के खातों की पड़ताल तेज

» एसआइटी टीम पड़ताल करने लखनऊ पहुंची

» एसआइटी को आरोपित अंकित दास के फ्लैट में मिली रिपीटर गन तथा पिस्टल