डॉ. एके सिंह को मिला अतिरिक्त कार्यभार, लोहिया संस्थान के कार्यवाहक निदेशक बनें

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

डॉ. एके सिंह को मिला अतिरिक्त कार्यभार, लोहिया संस्थान के कार्यवाहक निदेशक बनें


🗒 गुरुवार, अक्टूबर 29 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
डॉ. एके सिंह को मिला अतिरिक्त कार्यभार, लोहिया संस्थान के कार्यवाहक निदेशक बनें

लखनऊ, डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान का कार्यवाहक निदेशक डॉ. एके सिंह को बनाया गया है। वह अटल बिहारी वाजपेई चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति भी हैं और अभी तक इनके पास संस्थान का अतिरिक्त कार्यभार था। चिकित्सा शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. रजनीश दुबे ने बताया कि गुरुवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने डॉ. एके सिंह को कार्यवाहक निदेशक बनाने के प्रस्ताव पर अपनी मुहर लगा दी है। वहीं संस्थान के 48 प्रोफेसर (जूनियर ग्रेड), एसोसिएट प्रोफेसर और असिस्टेंट प्रोफेसरों की पदोन्नति भी की गई है। मालूम हो कि डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक पद से डॉ. एके त्रिपाठी को कोविड मरीजों की देखभाल में लापरवाही बरतने के आरोप में हटाते हुए संस्थान की वरिष्ठतम प्रोफेसर डॉ. नुजहत हुसैन को 25 जून को कार्यवाहक निदेशक बनाया गया था। वहीं डॉक्टरों द्वारा बाहर से दवाएं लिखे जाने का मामला सुर्खियों में आने के बाद इन्हें भी 14 अक्टूबर को हटा दिया गया था और डॉ. एके सिंह को अतिरिक्त प्रभार दिया गया था। अब उन्हें कार्यवाहक निदेशक बना दिया गया है। उधर  प्रोफेसर (जूनियर ग्रेड) से प्रोफेसर पद 11, एसोसिएट प्रोफेसर से प्रोफेसर (जूनियर ग्रेड) पर 14 और 23 असिस्टेंट प्रोफेसरों को प्रोन्नति देकर एसोसिएट प्रोफेसर बनाया गया है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» कांग्रेस समेत कई दलों के नेता समाजवादी पार्टी में शामिल

» श्रीराम के जयकारे के साथ लखनऊ के ऐशबाग में जला रावण

» मौलाना कलीम के खातों की पड़ताल तेज

» एसआइटी टीम पड़ताल करने लखनऊ पहुंची

» एसआइटी को आरोपित अंकित दास के फ्लैट में मिली रिपीटर गन तथा पिस्टल