यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

शराब पीने से हुई थी बेटे की मौत...भाजपा सांसद कौशल किशोर ने उठाया ये कदम


🗒 शनिवार, अक्टूबर 31 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
शराब पीने से हुई थी बेटे की मौत...भाजपा सांसद कौशल किशोर ने उठाया ये कदम

लखनऊ,  मोहनलालगंज के सांसद कौशल किशोर ने अपने युवा बेटे की शराब पीने से हुई मौत से आहत होकर युवावस्था में नशे के खिलाफ एक अभियान छेडने का निर्णय लिया है। इस अभियान के तहत तीन दिसंबर को गांधी भवन में आयोजन होगा। यहां युवाओं को नशा न करने का संकल्प दिलाया जाएगा।सांसद ने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा है कि मेरे बेटे आकाश किशोर उर्फ जेबी की मृत्यु चोरी छुपे शराब पीने से ज्वाइंडिस हो जाने से हुई। उसका लीवर खराब हो गया था। 28 वर्ष की उम्र में विगत 19 अक्टूबर को मृत्यु हुई थी। मेरा बेटा अपने पीछे अपनी पत्नी और एक दो वर्षीय बच्चे को छोड़ गया है। हमने पूरा प्रयास किया की बेटा आकाश किशोर नशा छोड़ दें, कई बार नशामुक्ति केंद्रों में भर्ती भी कराया उसने नशा छोडा भी लेकिन कुछ लोग उसके पीछे लगे रहे। जब मै करोना पॉजिटिव होकर भर्ती हो गया तो फिर से उसने शराब पी ली। जिसके कारण लिवर डैमेज हो गया और अंत में उसकी मृत्यु हो गई। हम और हमारा पूरा परिवार बहुत आहत हैं। हमने संकल्प लिया है की नई पीढ़ी के लड़कों को कोई न कोई तो पहली बार शराब पिलाता है नशा कराता है। कोई भी अपने आप नशा नहीं करता उन्हें कोई न कोई नशा करने के लिए प्रेरित करता है।मेरा बेटा भी इसी का शिकार हुआ मैंने बहुत लोगों का नशा छुड़वा दिया शराब, बीड़ी, सिगरेट, मसाला छुड़वा दिया, लेकिन मेरा खुद का बेटा शराब नहीं छोड़ सका। मुझे इस बात की बहुत तकलीफ है। इसलिए मैने निर्णय लिया है कि नई पीढ़ी के लोग नशे से बचें मेरे बेटे की तरह किसी दूसरे का बेटा या बेटी नशे का शिकार होकर कम उम्र में अपनी जान न गंवाये। इसलिए नई पीढ़ी को हमको नशे से बचाने के लिए आंदोलन करना पड़ेगा और इसके लिए हमने 3 दिसंबर 2020 को लखनऊ के गांधी भवन सभागार में प्रातः 11:00 बजे से एक नशा मुक्त समाज बनाने का आंदोलन शुरू करने का निर्णय लिया है। 3 दिसंबर 2020 को एक हजार नवयुवक यह संकल्प लेंगे कि हम किसी भी प्रकार का नशा अपने जीवन में नहीं लेंगे और अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को नशे से बचाने का काम करेंगे। यह एक हजार नवयुवक हर महीने एक और युवक को अपने साथ जोड़ेंगे। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» कांग्रेस समेत कई दलों के नेता समाजवादी पार्टी में शामिल

» श्रीराम के जयकारे के साथ लखनऊ के ऐशबाग में जला रावण

» मौलाना कलीम के खातों की पड़ताल तेज

» एसआइटी टीम पड़ताल करने लखनऊ पहुंची

» एसआइटी को आरोपित अंकित दास के फ्लैट में मिली रिपीटर गन तथा पिस्टल