यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

करोड़ों की ठगी करने वाले नाइजीरियन गिरफ्तार, दिल्ली से पकड़े गए युवक-युवती


🗒 शनिवार, अक्टूबर 31 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
करोड़ों की ठगी करने वाले नाइजीरियन गिरफ्तार, दिल्ली से पकड़े गए युवक-युवती

लखनऊ, स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने करोड़ों की ठगी करने के आरोप में नाइजीरियन युगल को गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने पीजीआइ थाना क्षेत्र निवासी एक महिला डॉक्टर से लाखों रुपये हड़प लिए थे। इस संबंध में महिला डॉक्टर ने पुलिस से शिकायत की थी, जिसके बाद युवक युवती को दबोच लिया गया।प्रभारी पुलिस अधीक्षक एसटीएफ विशाल विक्रम सिंह के मुताबिक डेल्टा एगबोर नाइजीरिया निवासी थियाम बालदे व अशातु को सैनिक कॉलोनी मोड़ पीजीआइ से पकड़ा गया है। आरोपित थियाम ने यूएसए के एक युवक की प्रोफाइल फोटो लगाकर डेविड एलेक्स नाम से फर्जी फेसबुक आइडी बनाई थी। इसके बाद उसने पीजीआइ क्षेत्र में रहने वाली एक महिला डॉक्टर को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी और फिर दोनों में चैटिंग शुरू हो गई थी। आरोपित ने बातों में उलझाकर महिला डॉक्टर को महंगा गिफ्ट भेजने का झांसा दिया। कुछ दिन बाद महिला डॉक्टर के पास अनजान नम्बर से फोन आया कि आपका पार्सल आया है और इसके लिए आपको 82 हजार रुपये जमा करने होंगे। यह सुनकर महिला डॉक्टर ने रुपये जमा कर दिए। थोड़ी देर बाद फोन करने वाले ने बताया कि पार्सल में 56 हजार पाउंड कैश है। इसके लिए चार लाख 30 हजार रुपये जमा करने होंगे नहीं तो मनी लांड्रिंग का केस दर्ज होगा। महिला डॉक्टर ने डरकर रुपये खाते में स्थानांतरित कर दिए। यही नहीं आरोपितों ने महिला डॉक्टर को डराकर विभिन्न मदों में लाखों रुपये जमा करवा लिए। पीड़िता ने जब डेविड एलेक्स से फेसबुक पर सम्पर्क किया तो उसने महिला डॉक्टर को ब्लॉक कर दिया। ठगी का एहसास होने पर पीड़िता ने पुलिस से शिकायत की, जिसके बाद एसटीएफ की टीम ने सर्विलांस की मदद से दोनों आरोपितों को दबोच लिया। पूछताछ में दोनों ने बताया कि वे यहां निलोठी निहालपुर दिल्ली में रहते हैं।थियाम वर्ष 2018 में भारत आया था। फरवरी 2020 में उसका वीजा समाप्त हो गया था। आरोपित ने अपनी प्रेमिका के साथ मिलकर यूएसए के लोगों के फोटो लगाकर छह लोगों की फर्जी फेसबुक प्रोफ़ाइल बनाई थी। गिरोह में कई भारतीय भी शामिल हैं, जिनके खातों में आरोपित रुपये मंगाते थे। थियाम महिलाओं को प्रेमजाल में फंसाता था, जबकि उसकी प्रेमिका युवकों को झांसे में लेती थी। आरोपितों के पास से 2दो लैपटॉप, दो पासपोर्ट, आठ मोबाइल फोन और 17 सौ रुपये समेत अन्य सामान बरामद किए गए हैं। पुलिस गिरोह के अन्य बदमाशों का बारे में पता लगा रही है।