यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

विधायक के सामने समर्थकों ने निगोहां टोल प्लाजा के कर्मचारियों को पीटा, वीड‍ियो वायरल


🗒 रविवार, नवंबर 29 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
विधायक के सामने समर्थकों ने निगोहां टोल प्लाजा के कर्मचारियों को पीटा, वीड‍ियो वायरल

लखनऊ, रायबरेली से बछरावां के विधायक राम नरेश रावत के समर्थकों ने निगोहां टोल प्लाजा पर रविवार को जमकर हंगामा किया। समर्थकों ने विधायक की उपस्थिति में टोल प्लाजा के कर्मचारियों की पिटाई कर दी। पूरा घटनाक्रम टोल प्लाजा पर लगे सीसी कैमरे में कैद हो गया। रविवार शाम को सोशल मीडिया पर विधायक व उनके समर्थकों की फुटेज वायरल हो गई। इसके बाद पुलिस ने मामले का संज्ञान लिया और दोनों पक्षों को निगोहा थाने पर बुलाया गया। टोल प्लाजा के कर्मचारियों का आरोप है कि विधायक की तरफ से 250 गाड़ियों की सूची भेजी गई थी। विधायक ने सभी वाहनों का टोल माफ करने की मांग की थी। टोल प्लाजा के कर्मचारियों ने विधायक की इस मांग को अस्वीकार कर दिया। इस बात की जानकारी मिलने पर विधायक समर्थकों के साथ टोल प्लाजा पर पहुंचे। टोल मैनेजर धीरज श्रीवास्तव के मुताबिक विधायक रामनरेश रावत ने अपने लेटर पैड पर ढाई सौ गाड़ियों की निशुल्क आवागमन की सूची टोल प्रशासन को सौपी थी। टोल नियमावली में ऐसा कोई नियम नहीं है कि एक विधायक के लिए 250 गाड़ियों का आवागमन निशुल्क कर दिया जाए। इसी मुद्दे पर बातचीत के दौरान विधायक नाराज हो गए। आरोप है कि विधायक ने टोल कर्मचारियों को धमकी दी जिसके बाद उनके समर्थक आक्रोशित हो गए। देखते ही देखते विधायक समर्थकों ने टोल प्लाजा के कर्मचारियों की पिटाई कर दी। शोरगुल सुनकर टोल प्लाजा के अन्य कर्मचारी वहां पहुंचे और किसी तरह बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया।बताया जा रहा है कि जिस समय विधायक समर्थक टोल प्लाजा के कर्मचारियों से मारपीट कर रहे थे, उस दौरान निगोहा पुलिस वहां मौजूद थी। हालांकि पुलिस मूकदर्शक बनी रही। देर शाम को सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद निगोहा पुलिस ने टोल प्लाजा के कर्मचारियों से संपर्क किया। पुलिस के मुताबिक पीड़ित कर्मचारियों की तहरीर के आधार पर एफआइआर दर्ज कर छानबीन की जाएगी।निगोहा टोल प्लाजा पर विधायक समर्थकों द्वारा वहां के कर्मियों की पिटाई के बाद ये मामला स्थानीय थाने में भी पहुंचा। कस्बे के युवक ने टोल मैनेजर और उनके साथियों पर मारपीट का आरोप लगाया है। स्थानीय राहुल भारती ने बताया कि शनिवार को वह अपने साथियों के साथ टोल पर बढ़े लोकल शुल्क को लेकर वहां के मैनेजर धीरज श्रीवास्तव से मिलने गया था। इसी दरमियान उसकी धीरज से कहासुनी हो गई थी। रविवार दोपहर लगभग डेढ़ बजे वह अपने साथी राजकुमार गुप्ता उर्फ भल्लू के साथ बाइक से सुदौली गांव जा रहा था, तभी टोल कर्मियों ने दोनों के साथ मारपीट की। जानकारी मिलने पर क्षेत्रीय विधायक राम नरेश रावत वहां पहुंचे और टोल कर्मियों से पूछताछ करने लगे। विधायक के सामने भी टोल कर्मी अभद्र व्यवहार कर रहे थे, जिसके बाद धक्का मुक्की हुई थी। बछरावां एसओ राकेश सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।टोल के नाम पर लोकल यात्रियों के साथ अवैध वसूली की जा रही है। टोल कर्मियों ने बछरावां के दो युवकों को पीट दिया था, उसी बारे में बात करने के लिए मैं वहां गया था। टोल मैनेजर ने गलत तरीके से बात की, जिस पर वहां मौजूद लोगों ने आपत्ति दर्ज कराई। धक्का-मुक्की हुई है। मारपीट की बात सामने नहीं आई है।  - राम नरेश रावत, विधायक बछरावां

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» खिचड़ी भोज में लखनानंद महाराज ने जरूरतमंदों को वितरित किया कंबल

» ब्लॉक संसाधन केंद्र में पुस्तक के रूप में कई विद्यालयों को हुआ वितरित

» लखनऊ में स्कूल गार्ड की दरिंदगी आई सामने, किशोरी से 13 माह तक किया दुष्कर्म; गर्भवती हुई तो छोड़ा

» पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की मुश्किलें बढ़ाएगा ED, आय से अधिक संपत्ति में दर्ज होगा एक और केस

» लखनऊ में बीच सड़क छह दबंगों ने बेल्ट व लात-घूसों से चालक और उसके साथी को पीटा

 

नवीन समाचार व लेख

» ब्लॉक संसाधन केंद्र में पुस्तक के रूप में कई विद्यालयों को हुआ वितरित

» वीसी सखी कार्यक्रम के तहत महिलाओं को किया जा रहा है जागरूक

» वॉलीबॉल प्रतियोगिता मां आनंदी सम्राट स्टेडियम घुरवारा में हुआ

» खीरों ब्लाक के मिनी इंडोर स्टेडियम निहस्था में सदर विधायिका आदित्य सिंह का हुआ भव्य स्वागत हुआ

» रायबरेली 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजे गए सोमनाथ भारती