नफरत बांटने और आपस में लड़ाने की राजनीति करती है भाजपा - अखिलेश यादव

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

नफरत बांटने और आपस में लड़ाने की राजनीति करती है भाजपा - अखिलेश यादव


🗒 सोमवार, नवंबर 30 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
नफरत बांटने और आपस में लड़ाने की राजनीति करती है भाजपा - अखिलेश यादव

लखनऊ ,समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने भारत की छवि बिगाड़ी है वह झूठ का रास्ता अपनाती है। भाजपा की राजनीति नफरत बांटने और समाज को आपस में लड़ाने की है। उन्होंने कहा कि गुरु नानक देव ने जातपात और आपस में नफरत के खिलाफ आवाज उठाकर नया संदेश दिया था। आज की विषम परिस्थितियों में नानक देव के उपदेश व शिक्षाएं और भी ज्यादा प्रासंगिक हैं। उन्होंने धर्म का सच्चा व सही स्वरूप दिखाया। उन्होंने व्यक्तियों को मानवीय स्वतंत्रता का संकल्प दिया। सिख समाज मेहनती है और पूरी दुनिया में उन्होंने भारत का मान बढ़ाया है।सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी कार्यालय में सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव के 551वें प्रकाश पर्व के मौके पर संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर अरदास व शबद कीर्तन का भी आयोजन हुआ। उत्तर प्रदेश पंजाबी अकादमी के पूर्व उपाध्यक्ष सरदार हरपाल सिंह जग्गी ने कहा कि समाजवादी सरकार के समय ही सिख समाज और पंजाबी भाषा को सम्मान मिला। भाजपा ने तो उन्हें उपेक्षित और अपमानित करने का काम किया है। समाजवादी सरकार में गुरमुखी शिक्षण के लिए 55 लाख रुपये के वजीफे कक्षा आठ से 12 तक के छात्र-छात्राओं में बांटे गए थे। सिख समाज की ओर से अखिलेश यादव को सरोपा, कृपाण, स्वर्णमंदिर की प्रतिकृति तथा गुरू नानक देव का चित्र भेंट कर सम्मानित किया। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि किसान अगर खुशहाल नहीं है तो देश तरक्की नहीं कर सकता है। खाद्य वस्तुओं की आपूर्ति कर किसानों ने कोविड-19 के संक्रमण काल में काफी मदद की। भाजपा राज में किसान दुखी हैं। भाजपा ने उसका भरोसा तोड़ा है। नोटबंदी और जीएसटी से किसानों के हाथ खाली हैं। किसान को न तो मक्का, धान की फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य मिला और न ही उसकी आय दोगुनी हुई। समाजवादी पार्टी ने जो मंडियां बनवाईं उन्हें समाप्त कर दिया गया। अखिलेश सोमवार को हमीरपुर के राठ विधानसभा क्षेत्र के मुस्करा गांव के किसानों से 'किसान संवाद' कार्यक्रम में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भाजपा पर जमकर बरसे।सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि कृषि सुधार संबंधी कानून धोखा है। भाजपा ने भारत की बदनामी कराई है। किसान आत्महत्या कर रहे हैं। इस किसान विरोधी सरकार को हटाएंगे। लॉकडाउन में 90 मजदूरों के मरने पर समाजवादी पार्टी ने एक-एक लाख रुपये की मदद की। अखिलेश यादव ने ददरी में पूर्व प्रधान की हत्या का संज्ञान लिया और अब तक उनके परिवारीजनों की कोई सहायता नहीं होने पर एक लाख रुपये की मदद दिलाने का आश्वासन दिया।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» यूपी में निदेशक पद पर प्रमोट किए गए 15 चिकित्सा अधिकारियों को मिली तैनाती,

» पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ ED ने भी आय से अधिक संपत्ति मामले में दर्ज किया केस

» हवाला के जरिए बांग्लादेश में अपनों को रकम भेज रहे रोहिंग्या

» लखनऊ में फर्जी दारोगा बन वसूली करते पकड़ा गया होमगार्ड

» इंस्‍पेक्‍टर की वर्दी में कैंस‍िल चेक लेकर पब्‍ल‍िक को लगा रहा था चूना

 

नवीन समाचार व लेख

» यूपी में निदेशक पद पर प्रमोट किए गए 15 चिकित्सा अधिकारियों को मिली तैनाती,

» पत्नी के मायके में आग लगाने वाला सिरफिरा पति गिरफ्तार

» खिचड़ी में नशीला पदार्थ मिलाकर बच्चों को देने से नौ की हालत खराब

» हार्ड डिस्क पाने को हुई थी पांच लाख की सौदेबाजी, एक और पीडि़त आया सामने

» अलीगढ़ में पुलिस ने दो शातिर पशु चोर पकड़े