यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ म्युनिसिपल बॉण्ड की BSE में लिस्टिंग की तैयारी पूरी, कल CM योगी आदित्यनाथ होंगे शामिल


🗒 मंगलवार, दिसंबर 01 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लखनऊ म्युनिसिपल बॉण्ड की BSE में लिस्टिंग की तैयारी पूरी, कल CM योगी आदित्यनाथ होंगे शामिल

लखनऊ, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज(BSE) में लखनऊ म्युनिसिपल बॉण्ड भी लिस्ट होगा। मुम्बई में मंगलवार को इसकी तैयारी पूरी हो गई है। उत्तर प्रदेश किसी नगरीय निकाय के म्युनिसिपल बॉण्ड जारी करने वाला उत्तर भारत का पहला राज्य है।प्रदेश के नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन के साथ कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह तथा अपर मुख्य सचिव सूचना तथा सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्योग विभाग नवनीत सहगल ने मंगलवार को मुम्बई में इसकी तैयारी को परखा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कल यानी दो दिसंबर को इसकी लिस्टिंग सेरेमनी में शामिल होंगे।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार से मुम्बई के दो दिन के दौरे पर रहेंगे। मुख्यमंत्री दो दिसंबर को मुम्बई में लखनऊ म्युनिसिपल बॉण्ड के लिस्टिंग समारोह में शामिल होंगे। इस अवसर पर लखनऊ नगर निगम के दो सौ करोड़ रुपए के म्युनिसिपल बॉण्ड की बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टिंग होगी। लखनऊ म्युनिसिपल बॉण्ड के बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होने से यह ट्रेडिंग के लिए उपभोक्ताओं के लिए तत्काल ही उपलब्ध होगा। लखनऊ म्युनिसिपल बॉण्ड में निवेशकों की रुचि के कारण 10 दस के लिए 8.5 प्रतिशत की अत्यंत आकर्षक कूपन दर प्राप्त हुई। यह अब तक जारी म्युनिसिपल बॉण्ड में द्वितीय न्यूनतम स्तर है। यह बॉण्ड निवेशकों ने साढ़े चार गुना अधिक सब्सक्राइब किया है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में लखनऊ म्युनिसिपल बॉन्ड की लिस्टिंग उत्तर प्रदेश में बदलती कार्यपद्धति तथा वित्तीय अनुशासन को दर्शाता है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि स्टॉक एक्सचेंज में म्युनिसिपल बॉण्ड के सूचीबद्ध हो जाने से जनता को बुनियादी सुविधाएं देने के लिए धन की कोई कमी नहीं होगी।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुम्बई यात्रा के दौरान बुधवार को विशेष तौर पर डिफेंस कारीडोर एवं उत्तर प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण से संबंधित उद्यमियों एवं फिल्म निर्माताओं से मुलाकात करेंगे। केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रक्षा क्षेत्र से जुड़े 101 उत्पादों का उत्पादन अब भारत में करने की योजना बनाई है। उत्तर प्रदेश ने 2018 की इन्वेस्टर्स समिट के दौरान ही राज्य में डिफेंस कारीडोर विकसित करने की घोषणा कर दी थी। इस कारीडोर में रक्षा क्षेत्र से जुड़ी कंपनियों को निवेश के लिए आमंत्रित किया जाना था। इन्वेस्टर्स समिट के एक वर्ष बाद हुई ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में भी मुख्यमंत्री आदित्यनाथ डिफेंस कारीडोर पर जोर देते नजर आए थे। अब तक इस क्षेत्र के उद्योग घरानों की ओर से किसी बड़े निवेश की घोषणा सामने नहीं आ सकी है। इसके अलावा योगी उत्तर प्रदेश में फिल्म सिटी निर्माण परियोजना को लेकर भी खासे गंभीर नजर आ रहे हैं।फिल्म उद्योग को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश सरकार ने फिल्म नीति-2018 लागू की है। इसके साथ ही एक फिल्म सिटी की घोषणा भी की गई है। जिसमें वल्र्ड क्लास सिविक व पब्लिक एमेनिटीज की स्थापना प्रस्तावित है। जिसे सर्वोत्कृष्ट डेडिकेटेड इन्फोटेनमेण्ट जोन के रूप में विकसित किया जा सके। कोविड-19 महामारी से उत्पन्न स्थिति में प्रदेश के एमएसएमई क्षेत्र को सहायता प्रदान करने के लिए संचालित प्रदेश में योजना की सफलता के दृष्टिगत भारत सरकार देश के अन्य राज्यों में भी इस प्रकार की योजना के संचालन को प्रोत्साहित कर रही है।  

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» खिचड़ी भोज में लखनानंद महाराज ने जरूरतमंदों को वितरित किया कंबल

» ब्लॉक संसाधन केंद्र में पुस्तक के रूप में कई विद्यालयों को हुआ वितरित

» लखनऊ में स्कूल गार्ड की दरिंदगी आई सामने, किशोरी से 13 माह तक किया दुष्कर्म; गर्भवती हुई तो छोड़ा

» पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की मुश्किलें बढ़ाएगा ED, आय से अधिक संपत्ति में दर्ज होगा एक और केस

» लखनऊ में बीच सड़क छह दबंगों ने बेल्ट व लात-घूसों से चालक और उसके साथी को पीटा

 

नवीन समाचार व लेख

» ब्लॉक संसाधन केंद्र में पुस्तक के रूप में कई विद्यालयों को हुआ वितरित

» वीसी सखी कार्यक्रम के तहत महिलाओं को किया जा रहा है जागरूक

» वॉलीबॉल प्रतियोगिता मां आनंदी सम्राट स्टेडियम घुरवारा में हुआ

» खीरों ब्लाक के मिनी इंडोर स्टेडियम निहस्था में सदर विधायिका आदित्य सिंह का हुआ भव्य स्वागत हुआ

» रायबरेली 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजे गए सोमनाथ भारती