यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राजभवन पर किसानों के प्रदर्शन को लेकर लखनऊ में हाई अलर्ट, राजभवन में पहुंचे शीर्ष अधिकारी


🗒 शनिवार, जनवरी 23 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
राजभवन पर किसानों के प्रदर्शन को लेकर लखनऊ में हाई अलर्ट, राजभवन में पहुंचे शीर्ष अधिकारी

लखनऊ, । दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के बीच शनिवार को लखनऊ में राजभवन घेरने की किसान नेताओं की योजना को लेकर प्रदेश सरकार बेहद गंभीर है। लखनऊ के साथ ही जिलों के बॉर्डर पर गहन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है जबकि राजभवन के भी हर गेट पर भारी पुलिस बल तैनात है। किसान नेताओं ने शनिवार को कृषि कानूनों के खिलाफ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से भेंट करने का कार्यक्रम बनाया था। इसको बाद में राजभवन घेराव का रूप दिया जाने लगा। किसान नेताओं की इस योजना की जानकारी होने के बाद प्रदेश सरकार हाई अलर्ट पर आ गई। राजभवन के हर गेट पर सुरक्षा बल तैनात किया गया है। सरकार की इस तैयारी के बाद किसान बैकफुट पर आ गए। किसान राजभवन एडीएम, डीसीपी, एडीसीपी के साथ पहुंचे हैं।इसके बाद हरनाम सिंह के नेतृत्व में किसानों के 12 सदस्यीय एक दल का राजभवन आने का कार्यक्रम फाइनल हो गया। इस प्रतिनिधिमंडल के राजभवन पहुंचने से पहले अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर तथा लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश भी राजभवन पहुंच गए।कृषि कानून के विरोध में लखनऊ तथा लखनऊ के बाहर बड़ी संख्या में किसान एकत्र होने लगे। इनके आज राजभवन आने की सूचना पर जिला तथा पुलिस प्रशासन ने इनको बॉर्डर पर घेरने में सफलता प्राप्त की। किसान नेताओं के लखनऊ के बॉर्डर पर ही राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन लिया गया। इसके बाद किसान नेता लखनऊ के बाहर से ही अपने जिलों में लौट गए।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिल्ली में किसान आंदोलन को देखते हुए सूबे में शांति-व्यवस्था बनाए रखने के कड़े निर्देश दिए हैं। उन्होंने प्रशासन व पुलिस के अधिकारियों को किसानों से वार्ता कर उन्हेंं समझाकर शांत कराने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही निर्देश दिया कि किसानों पर कहीं बल प्रयोग न हो और सार्थक संवाद के जरिए शांति-व्यवस्था कायम रखी जाए। किसानों ने शनिवार को राजभवन का घेराव करने की घोषणा की है। इसके अलावा 26 जनवरी को किसान ट्रैक्टर रैली निकालने का एलान पहले ही कर चुके हैं।मुख्यमंत्री ने शुक्रवार रात वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलों के डीएम, एसएसपी, एसपी व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यह भी ध्यान रखा जाए कि कहीं किसानों के साथ दुव्र्यवहार न हो। इसके साथ ही शरारती तत्वों पर भी कड़ी नजर रखी जाए। लखनऊ में शनिवार को पुख्ता सुरक्षा-व्यवस्था करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि कहीं भी अधिक भीड़ को न जुटने दिया जाए।  

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ व‍िकास प्राध‍िकरण की ट्रांसपोर्टनगर योजना में भूखंड घोटाला, छह पर एफआइआर दर्ज

» लखनऊ में आयरन स्टील निर्माता फर्म पर जीएसटी प्रवर्तन दल ने की कार्रवाई, बड़ी अनियमितताएं मिलीं

» लखनऊ में नौकरी के नाम पर 31 लाख की ठगी, मुलायम स‍िंंह यूथ ब्रिगेड के पूर्व प्रदेश सचिव पर FIR

» लखनऊ में वीमेन पॉवर लाइन 1090 मुख्यालय में बम की सूचना, चलाया गया सर्च ऑपरेशन

» लखनऊ में विधानसभा के पास SI ने खुद को मारी गोली, सुसाइड नोट में लिखा-CM साहब बच्चों का ध्यान रखना

 

नवीन समाचार व लेख

» लखनऊ में आयरन स्टील निर्माता फर्म पर जीएसटी प्रवर्तन दल ने की कार्रवाई, बड़ी अनियमितताएं मिलीं

» लखनऊ में नौकरी के नाम पर 31 लाख की ठगी, मुलायम स‍िंंह यूथ ब्रिगेड के पूर्व प्रदेश सचिव पर FIR

» PM मोदी को कल ऊर्जा एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए मिलेगा अंतरराष्ट्रीय सम्मान

» यूपी विधानसभा चुनाव में सपा जीतेगी 350 से ज्यादा सीटें, ईवीएम के खिलाफ चलाएंगे अभियान - अखिलेश यादव

» जालौन में अवैध गुटखा फैक्ट्री में छापा, भारी मात्रा में तंबाकू उत्पाद बरामद