यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

यूपी में पंचायत चुनाव जीतने वालों पर 2022 में दांव लगाएगी कांग्रेस


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 02 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
यूपी में पंचायत चुनाव जीतने वालों पर 2022 में दांव लगाएगी कांग्रेस

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की रणनीति बनाते हुए कांग्रेस ने कार्यकर्ताओं के लिए आकर्षक इनाम योजना तैयार की है। स्पष्ट कह दिया गया है कि विधानसभा चुनाव के उम्मीदवारों को अपने-अपने क्षेत्र से तीन-तीन जिला पंचायत सदस्यों को जिताना होगा। इसके साथ ही पार्टी जिला पंचायत सदस्य का चुनाव जीतने वालों को विधानसभा चुनाव का टिकट देने में विशेष प्राथमिकता देगी।कांग्रेस के प्रदेश पदाधिकारियों, जिला-शहर अध्यक्षों, फ्रंटल संगठनों और विभागों के अध्यक्षों की अहम बैठक प्रदेश मुख्यालय में हुई। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि इस पंचायत चुनाव में जीत का आधार हमारे पूर्व में किए गए काम होंगे। पंचायत चुनाव में तीनों कृषि कानून, बढ़ती महंगाई, बढ़ी कृषि लागत, बकाया गन्ना मूल्य, आसमान छूती बेरोजगारी और बढ़ती महिला हिंसा आदि मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएंगे।उन्होंने कहा कि इस त्रिस्तरीय चुनाव के माध्यम से कांग्रेस अपनी राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी प्रियंका वाड्रा का संदेश लेकर गांव-गांव जाएगी। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जिलों के वरिष्ठ नेताओं, पूर्व विधायकों, पूर्व सांसदों, पूर्व जिलाध्यक्षों और ब्लॉक अध्यक्षों की सहमति प्रत्याशी चयन में जरूर ली जाएगी। जिला पंचायत सदस्य का चुनाव जीतने वाले को आगामी विधानसभा चुनाव में विशेष वरीयता दी जाएगी।राष्ट्रीय सचिव व पंचायत चुनाव प्रभारी धीरज गुर्जर ने कहा कि पंचायत चुनाव नेताओं का नहीं, कार्यकर्ताओं का चुनाव है। सभी वरिष्ठ नेताओं और पदाधिकारियों को अधिकतम समय जिलों में रहकर पार्टी उम्मीदवारों के लिए सक्रिय भागीदारी निभानी होगी। राष्ट्रीय सचिव जुबैर खान ने कहा कि कांग्रेस पंचायत चुनाव को पूरी ताकत से लड़ेगी।पार्टी युवाओं को टिकट में वरीयता देकर प्रदेश के निराश और हताश नौजवानों में हौसला देने का प्रयास करेगी। बैठक में वरिष्ठ नेता केएल शर्मा, राष्ट्रीय सचिव सचिन नाईक, बाजीराव खाड़े, तौकीर आलम, रोहित चौधरी, प्रदीप नरवाल, प्रदेश कोषाध्यक्ष सतीश अजमानी, प्रदेश उपाध्यक्ष एवं विधायक सोहेल अख्तर अंसारी, पूर्व मंत्री दीपक कुमार, विश्वविजय सिंह, प्रदेश महामंत्री एवं पूर्व सांसद राकेश सचान, अली यूसुफ अली व धीरेंद्र सिंह धीरू आदि उपस्थित थे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» बुजुर्गों के हित में नया कानून लाने जा रही योगी सरकार, सेवा नहीं की तो वापस ले सकेंगे अपनी संपत्ति

» यूपी शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड में मुतवल्ली कोटे के दो पदों पर ही होंगे चुनाव, आठ सदस्य सरकार करेगी नामित

» हफ्ते में तीन दिन लघु-सीमांत किसानों से करें क्रय केंद्रों पर गेहूं खरीद - सीएम योगी

» UP में कक्षा आठ तक निजी तथा सरकारी स्कूल 11 तक बंद

» रक्षामंत्री राजनाथ स‍िंह ने लखनऊ में क‍िया पुलों का लोकार्पण-श‍िलान्‍यास

 

नवीन समाचार व लेख

» यूपी शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड में मुतवल्ली कोटे के दो पदों पर ही होंगे चुनाव, आठ सदस्य सरकार करेगी नामित

» यूपी में पंचायत चुनाव जीतने वालों पर 2022 में दांव लगाएगी कांग्रेस

» हफ्ते में तीन दिन लघु-सीमांत किसानों से करें क्रय केंद्रों पर गेहूं खरीद - सीएम योगी

» UP में कक्षा आठ तक निजी तथा सरकारी स्कूल 11 तक बंद

» रक्षामंत्री राजनाथ स‍िंह ने लखनऊ में क‍िया पुलों का लोकार्पण-श‍िलान्‍यास