यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

स्वर्गीय भगवती सिंह का पार्थिव शरीर कोरोना संक्रमित, अंगदान नहीं अब बैकुंठ धाम में दाह संस्कार


🗒 सोमवार, अप्रैल 05 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
स्वर्गीय भगवती सिंह का पार्थिव शरीर कोरोना संक्रमित, अंगदान नहीं अब बैकुंठ धाम में दाह संस्कार

लखनऊ, जे वरिष्ठ समाजवादी चिंतक व पूर्व मंत्री स्वर्गीय भगवती सिंह के पार्थिव शरीर में कोरोना संक्रमण पाया गया। ज‍िसके बाद सोमवार यानी आज उनके पार्थिव शरीर का बैकुंठ धाम में कोविड प्रोटोकॉल के तहत इलेक्ट्रिक शवदाह गृह में दाह संस्कार होगा। दरअसल, बीते रविवार को समाजवादी विचारक भगवती सिंह का निधन हुआ। उन्‍होंने शहर की आबोहवा से दूर बीकेटी स्थित चंद्र भानू गुप्ता डिग्री कॉलेज परिसर में अंतिम सांस ली। जि‍सके बाद रिवर बैंक कालोनी स्थित आवास पर उनका पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन को लाया गया। बता दें, भगवती सिंह ने अपने जीवन काल में ही मेडिकल कॉलेज को अंगदान किया गया था। लेकिन पार्थिव शरीर में कोरोना संक्रमण मिलने के चलते अब दाह संस्‍कार किया जा रहा है। भगवती सिंह के निधन के बाद परिवारजनों ने उनका देह किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) को दान कर दिया था, लेकिन कोरोना रिपोर्ट नहीं आने तक पार्थिव शरीर मोर्चरी में रखा गया था। केजीएमयू में बॉडी डोनेशन के इंचार्ज डॉ सुरेश पांडेय ने बताया कि कोरोना रिपोर्ट पॉज‍िट‍िव आने के बाद पार्थिव शरीर को परिवारजनों के हवाले कर दिया गया। अब उनका देहदान की जगह कोविड प्रोटोकॉल के तहत इलेक्ट्रिक शवदाह गृह में दाह संस्कार होगा।भगवती सिंह ने मेडिकल की पढ़ाई कर रहे छात्रों के लिए अपना देहदान कर दिया था। उन्होंने चंद्र भानु गुप्ता कृषि महाविद्यालय की स्थापना की। वर्ष 1977 में पहली बार महोना से विधायक बने और फिर आवास विकास मंत्री बने थे। 1985 में विधायक,1990 में कैबिनेट में खेलकूद युवा कल्याण मंत्री बने। 1990 में सदस्य विधान परिषद व 1993 में वन मंत्री की कुर्सी संभाली। 1998 में फिर से सदस्य विधान परिषद बने और 2003 में बाह्य सहायतित परियोजना मंत्री की जिम्मेदारी संभाली। वर्ष 2004 में राज्यसभा सदस्य बनाए गए, उन्होंने ही बख्शी का तालाब तहसील की स्थापना भी कराई।भगवती सिंह के निधन की सूचना फैलते ही शोक संवदेना जताने का सिलसिला तेज हुआ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने उनके आवास पर जाकर श्रद्धांजलि अर्प‍ित की। प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव भी शोक व्यक्त करने भगवती सिंह के निवास पर पहुंचे थे। नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने भी गहरा शोक व्यक्त किया। विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित, राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय सचिव अनिल दुबे, बौद्धिक सभा संयोजक दीपक मिश्रा, सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी, पूर्व मंत्री अरविंद सिंह गोप व डा. राजपाल कश्यप ने भी श्रद्धासुमन अर्प‍ित किए।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» बाहुबली मुख्तार अंसारी को रोपड़ से बांदा लाने के दो रूट प्लान, मंगलवार सुबह पहुंचेगी UP पुलिस टीम

» प्रयागराज के चर्चित डॉ. एके बंसल हत्याकांड का राजफाश

» ऑनलाइन क्‍लास के दौरान बच्‍चों को भेजा जा रहा जुआ खेलने का ल‍िंंक

» लखनऊ में सभी डिग्री कालेजों में आनलाइन पढ़ाई, जिलाधिकारी ने दी सहमति

» लखनऊ के साथ प्रयागराज में भी बढ़ने लगे नए संक्रमित, 24 घंटे में प्रदेश में 3999 नए संक्रमित

 

नवीन समाचार व लेख

» मेरठ कमिश्नरी चौराहे पर बेटे की प्रेमिका को मां ने चप्पलों से पीटा, वीडियो वायरल

» बागपत में भावी उम्‍मीदवारों में चले लात-घूसे

» पुलिसकर्मी बनकर लोगों के रुपये उड़ाने वाला गैंग बेनकाब

» प्रतापगढ़ में शराब माफिया की तलाश में दबिश देने गई थी पुलिस, पुलिसकर्मियों ने भागकर बचाई जान

» बीएचयू पुलिस चौकी के पास छीनी छात्रा के गले से चेन