उपद्रवियों पर लगेगा रासुका, अपर मुख्य सचिव गृह ने दौरा कर द‍िए सख्‍त न‍िर्देश

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उपद्रवियों पर लगेगा रासुका, अपर मुख्य सचिव गृह ने दौरा कर द‍िए सख्‍त न‍िर्देश


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 16 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
उपद्रवियों पर लगेगा रासुका, अपर मुख्य सचिव गृह ने दौरा कर द‍िए सख्‍त न‍िर्देश

लखनऊ,। कोरोना संक्रमण की लगातार बढ़ती चुनौती के बीच शासन ने लापरवाही व गड़बड़ी करने वालों से अब पूरी सख्ती से निपटने का निर्णय किया है। अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने पंचायत चुनाव के दौरान लोक व्यवस्था भंग करने तथा उपद्रव करने वालों के विरुद्ध रासुका (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) के तहत कार्रवाई किए जाने का निर्देश दिया है। साथ ही कोविड-19 के नियमों का अनुपालन कराने के लिए थानाध्यक्षों की भी जवाबदेही तय की है। कहा है कि नियमों का अनुपालन कराने में ढिलाई पर संबंधित थानेदार के विरुद्ध कार्रवाई होगी।अवस्थी ने शुक्रवार शाम लखनऊ में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ विभूतिखंड, इंदिरानगर, अलीगंज, जानकीपुरम, पारा, हुसैनगंज व अन्य क्षेत्रों का भ्रमण कर कोविड-19 के नियमों के अनुपालन का जायजा लिया। अवस्थी का कहना है कि इस दौरान कई स्थानों पर गाड़ियों के भीतर बैठे लोग बिना मास्क लगाए मिले। दुकानों के भीतर भी दुकानदार बिना मास्क लगाए पाए गए। वीवीआइपी गेस्ट हाउस के पास कुछ पीएसीकर्मी भी बिना मास्क के मिले, जिनका अपर मुख्य सचिव, गृह के निर्देश पर चलान किया गया। बताया कि नौ अप्रैल से 15 अप्रैल के मध्य लखनऊ कमिश्नरेट पुलिस ने मास्क न लगाने के 331 लोगों का चालान किया है।अवस्थी ने पंचायत चुनाव के प्रथम चरण का मतदान स्वतंत्र, निष्पक्ष व शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों व कर्मियों को बधाई दी है। कहा कि लोक व्यवस्था भंग करने वाले व उपद्रवी तत्वों पर रासुका के तहत कार्रवाई होगी। गड़बड़ी फैलाने वालों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध भी कार्रवाई की जाएगी। उपद्रव के दौरान संपत्ति को क्षति पहुंचाने वालों से वसूली भी कराई जाएगी। साथ ही प्रदेश में कोरोना पर प्रभावी ढंग से नियंत्रण के लिए सभी पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को निर्धारित नियमों का कड़ाई से अनुपालन कराने का निर्देश दिया है। कहा कि जिन थानाक्षेत्रों में मास्क पहनने व शरीरिक दूरी के निर्धारित नियमों के अनुपालन में ढिलाई पाई जाएगी, वहां थानाध्यक्ष की जिम्मेदारी तय कर कार्रवाई होगी। उन्होंने पुलिस व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को खुद चेकिंग कर नियमों का अनुपालन कराने का निर्देश भी दिया है।अपर मुख्य सचिव गृह के अनुसार कोरोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए जिला प्रशासन के पर्यवेक्षण में फायर सर्विस के जरिए सेनेटाइजेशन कराया जा रहा है। विभिन्न जिलों में 1069 हाॅटस्पाॅट/संभावित हाॅटस्पाॅट, 2403 संवेदनशील स्थलों, 3690 बाजारों व 7532 आवासीय स्थलों समेत कुल 28494 स्थानों पर सेनेटाइजेशन कराया गया है।अपर मुख्य सचिव, गृह का कहना है कि करोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए दूसरे प्रदेशों से आने वाले यात्रियों की कोरोना जांच के लिए संघन चेकिंग शुरू की गई है। प्रदेश के विभिन्न स्टेशनों पर उतरने वाले 1. 51 लाख से अधिक यात्रियों की स्क्रीनिंग कराई गई। चेकिंग में संदिग्ध पाये गये 10150 व्यक्तियों के कोविड टेस्ट किये गये, जिनमें 281 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमित पाए गए यात्रियों कोविड नियमों के तहत कार्यवाही सुनिश्चित कराई जा रही है।  

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» COVID के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस को लेकर यूपी में अलर्ट, CM योगी आदित्यनाथ ने जांच तेज करने के दिए निर्देश

» बहुचर्चित बाइक बोट घोटाले में 245 और मोटरसाइकिलें बरामद

» वीमेन पावर लाइन की टीम ने महिलाओं को अश्लील कॉल करने के आरोपित को बलिया से गिरफ्तार किया

» लखनऊ में दो जालसाज ग‍िरफ्तार,

» 52 जिलों में 50 से कम कोरोना वायरस संक्रमित, 229 मिले नए केस

 

नवीन समाचार व लेख

» मुख्तार अंसारी के 14 दिन के रिमांड को तामिला कराएगी पुलिस

» मेरठ में पत्नी का गला दबाने का आरोपित दिल्ली से गिरफ्तार

» मेरठ में महिला कांस्टेबल के साथ हैवानियत, जेठ ने फाड़े कपड़े, ससुर ने किया दुष्कर्म

» कानपुर के बर्रा में बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने पकड़कर पीटा

» भाजपा विधायक आवास में बंधक बनाकर बेटी से किया दुष्कर्म