यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कोरोना संक्रमित 332 ने दम तोड़ा, 24 घंटे में मिले 34,626 नए संक्रमित


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 30 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कोरोना संक्रमित 332 ने दम तोड़ा, 24 घंटे में मिले 34,626 नए संक्रमित

लखनऊ,। कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर ने देश के साथ उत्तर प्रदेश में भी अपना कहर काफी तेज कर दिया है। प्रदेश में बीते 24 घंटे में 332 लोगों की मृत्यु हो गई है, जबकि कोविड संक्रमण के 34,626 नए मामले सामने आए हैं।प्रदेश में इस समय कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 3.10 लाख से अधिक है। इनमें करीब 40 फीसद संक्रमित मरीज सात शहरों में मिले हैं। लखनऊ में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा सर्वाधिक है। यहां वर्तमान में 44145 संक्रमित मरीज हैं। कानपुर, वाराणसी, प्रयागराज, मेरठ, गोरखपुर व बरेली में कोरोना पॉजिटिव मरीज सबसे अधिक हैं। इन शहरों की वजह से कोरोना संक्रमण की स्थिति चुनौतीपूर्ण बनी हुई है।उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण पर अंकुश लगाने का योगी आदित्यनाथ सरकार के प्रयास का भी बड़ा असर दिख रहा है। बीते 24 घंटे में 32,494 लोग कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त हो गए हैं। इनमें प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी हैं।कानपुर में करीब 17856, वाराणसी में 15454, प्रयागराज में 13186, मेरठ में 12619, बरेली में 10193 व गोरखपुर में 9908 संक्रमित मरीज हैं। गौतमबुद्धनगर में आठ हजार से अधिक संक्रमित मरीजों की संख्या है। पिछले 24 घंटे में 2.44 लाख से अधिक मरीजों की जांच की गई। इसमें 34626 मरीज संक्रमित मिले हैं। कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। पहली बार एक दिन में मरने वालों की संख्या 332 पहुंच गई। यह एक दिन में मरने वालों की सर्वाधिक संख्या है। इससे पहले गुरुवार को 298 लोगों की कोरोना वायरस से जान गई थी।प्रदेश में अभी भी तीन लाख 10,783 एक्टिव केस हैं। इससे पहले नौ लाख 28971 लोग इसके संक्रमण से उबरे भी हैं। प्रदेश में बीते 24 घंटे में दो लाख 44,148 कोविड टेस्ट हुए हैं। इसमें केवल एक लाख 8 हजार तो आरटीपीसीआर टेस्ट शामिल हैं।  शनिवार से शुरू हो रहे तीन दिन के लॉकडाउन के दौरान सैनिटाइजेशन के साथ ही फोकस टेस्टिंग का काम काफी तेज गति से किया जाएगा। साथ ही मेडिकल ऑक्सीजन, हॉस्पिटल में बेड तथा दवा की व्यवस्था करने पर भी सरकार का जोर है।प्रदेश में अभी भी लखनऊ, कानपुर नगर, वाराणसी, प्रयागराज, मेरठ व बरेली में कुल संक्रमितों में से आधे हैं। सरकार इन शहरों पर फोकस टेस्टिंग भी करा रही है। अब यहां पर बड़े कंटेनमेंट जोन भी तैयार करने का प्रयास हो रहा है। करीब तीन दिन के लॉकडाउन के दौरान सैनिटाइजेशन के साथ ही फोकस टेस्टिंग का काम काफी तेज गति से किया जा रहा है। इसके साथ ही होम आइसोलेशन में रहने वालों पर भी बराबर नजर रखी जा रहा है। मेडिकल ऑक्सीजन, हॉस्पिटल में बेड तथा दवा की व्यवस्था करने पर भी सरकार का जोर है।  

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» संदिग्ध परिस्थितियों में रिटायर्ड बैंक कर्मी लापता, गुमशुदगी दर्ज

» मूक-बधिर छात्रों को मानव बम बनाकर देश को दहलाने की साजिश

» जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की तैयारी में यूपी सरकार, अब घर-घर पहुंचेगा संदेश 'दो बच्चे ही अच्छे'

» उमर गौतम और जहांगीर कासमी सात दिन की UP ATS की रिमांड पर

» शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य वसीम रिजवी पर दुष्कर्म का आरोप

 

नवीन समाचार व लेख

» मूक-बधिर छात्रों को मानव बम बनाकर देश को दहलाने की साजिश

» जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की तैयारी में यूपी सरकार, अब घर-घर पहुंचेगा संदेश 'दो बच्चे ही अच्छे'

» जीप से गाड़ी टकराई तो युवक के कनपटी पर लगाई पिस्तौल, एसएसपी ने की कार्रवाई

» उन्नाव में वायुसैनिक हत्याकांड का दूसरा आरोपित गिरफ्तार

» अलीगढ़ में क्रेडिट कार्ड को हैक करके रुपये उड़ाने वाले गिरोह के तीन लोग गिरफ्तार