यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लोहिया संस्थान के डाॅक्टरों ने जीवित को घोषित किया मृत, घर पहुंचे तो चल रही थी मां की सांस, वीड‍ियो वायरल


🗒 रविवार, मई 02 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लोहिया संस्थान के डाॅक्टरों ने जीवित को घोषित किया मृत, घर पहुंचे तो चल रही थी मां की सांस, वीड‍ियो वायरल

लखनऊ,। लोहिया संस्थान में सांस की तकलीफ के चलते तीन दिन पहले भर्ती हुई एक महिला मरीज को घरवालों ने जीवित रहते ही मृत घोषित करने का आरोप लगाया है। उनके अनुसार रविवार शाम 5.27 बजे उन्हें डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। इसके बाद उन्हें घरवाले आलमबाग स्थित अपने घर ले गए। वहीं, 7.24 बजे अचानक घरवालों ने देखा कि मरीज मुंह से सांस लेने की कोशिश कर रही हैं। इसके बाद उन्हें तत्काल घर पर ही आक्सीजन सपोर्ट दिया गया। साथ ही उन्होंने एक कंपाउंडर बुलाया, जिसने मरीज के आला लगाया तो पता चला कि उसकी धड़कन व सांसें चल रही हैं। इसके बाद घरवाले एंबुलेंस बुलाकर उन्हें दूसरे अस्पताल ले जाने लगे। बंगला बाजार के सालेह नगर निवासी सुनील कुमार ने बताया कि उनकी 54 वर्षीय मां सुखरानी देवी तीन दिन पहले सांस में तकलीफ के चलते लोहिया की इमरजेंसी में भर्ती हुई थीं। स्ट्रेचर पर ही उन्हें आक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया था। शाम करीब साढ़े पांच बजे एक डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद वह मां को घर लेकर आ गए तभी अचानक मां की सांस चलती देख वह हैरान रह गए। इसके बाद उन्होंने पास की क्लीनिक से एक निजी डाक्टर को बुलाया, लेकिन वह उपलब्ध नहीं थे। इस पर कंपाउंडर ने आला लगाकर देखा और बताया कि वह जीवित हैं। परिवार के लोग महिला को डालीगंज के एक निजी अस्पताल ले गए, वहां रात करीब 10 बजे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। बेटे सुनील ने कहा कि लोहिया के डॉक्टरों ने शुरू में लापरवाही नहीं की होती तो मेरी मां जिंदा होती।ऐसे में घरवालों ने लोहिया संस्थान के डाक्टरों की लापरवाही का वीडियो घर से ही बनाकर इंटरनेट मीडिया पर वायरल कर दिया। वहीं, मरीज को आक्सीमीटर लगाने पर उनका आक्सीजन का स्तर 99 व पल्स 50 शो कर रहा है। सुनील ने बताया कि डाक्टर ने हमारी जीवित मां को मृत घोषित कर दिया। इसकी शिकायत वह संबंधित अधिकारियों से करेंगे। वहीं, लोहिया संस्थान के सीएमएस डा. संजय भटनागर ने बताया कि महिला के बारे में इस तरह की घटना होने की सूचना मिली है। मामले की जांच कराई जा रही है। ऐसा होने की संभावना बिल्कुल नहीं है। यदि किसी भी तरह से ऐसा हुआ होगा तो यह बहुत गलत है। जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।  

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» COVID के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस को लेकर यूपी में अलर्ट, CM योगी आदित्यनाथ ने जांच तेज करने के दिए निर्देश

» बहुचर्चित बाइक बोट घोटाले में 245 और मोटरसाइकिलें बरामद

» वीमेन पावर लाइन की टीम ने महिलाओं को अश्लील कॉल करने के आरोपित को बलिया से गिरफ्तार किया

» लखनऊ में दो जालसाज ग‍िरफ्तार,

» 52 जिलों में 50 से कम कोरोना वायरस संक्रमित, 229 मिले नए केस

 

नवीन समाचार व लेख

» मुख्तार अंसारी के 14 दिन के रिमांड को तामिला कराएगी पुलिस

» मेरठ में पत्नी का गला दबाने का आरोपित दिल्ली से गिरफ्तार

» मेरठ में महिला कांस्टेबल के साथ हैवानियत, जेठ ने फाड़े कपड़े, ससुर ने किया दुष्कर्म

» कानपुर के बर्रा में बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने पकड़कर पीटा

» भाजपा विधायक आवास में बंधक बनाकर बेटी से किया दुष्कर्म