यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ के सहारा और मेयो अस्पताल को नोट‍िस, निर्धारित शुल्क से कई गुना अधिक हो रही थी वसूली


🗒 गुरुवार, मई 06 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लखनऊ के सहारा और मेयो अस्पताल को नोट‍िस, निर्धारित शुल्क से कई गुना अधिक हो रही थी वसूली

लखनऊ,। निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों से इलाज के नाम पर लूट को लेकर शहर के दो बड़े कोविड अस्पताल सहारा और मेयो में मरीजों से अधिक वसूली पकड़ी गई। कोविड प्रभारी रोशन जैकब ने बुधवार को औचक निरीक्षण में गड़बडिय़ां पकड़ी। दोनो अस्पतालों को नोटिस जारी किया गया है।निजी अस्पतालों में सरकार द्वारा निर्धारित शुल्क से अधिक वसूले लाने की खबरों को संज्ञान में लेते हुए प्रभारी अधिकारी कोविड रोशन जैकब गुरुवार को अचानक गोमतीनगर स्थित सहारा और मेयो हास्पिटल पहुंच गयीं। सहारा अस्पताल में डिस्चार्ज रोगियों के बिल की जांच की तो पाया कि कंसलटेंसी, फार्मा (मेडिसिन), प्र्रोसिजल चार्जेस के नाम पर अतिरिक्त भुगतान लिया गया है। इसके अलावा आरटी-पीसीआर टेस्ट भी अधिक दरों पर कराया जा रहा है। इस पर प्रभारी अधिकारी ने निर्धारित शुल्क लेने के निर्देश देते हुए अस्पताल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। इसके साथ ही यह भी निर्देश दिए हैं कि यदि शासन द्वारा निर्धारित पैकेज के अतिरिक्त अगर कोई विशेष दवा या जांच कराई जाती है तो उसका ब्योरा बिल में स्पष्ट रूप से लिखा जाए। अनावश्यक हेड बढ़ाकर रोगियों से अधिक शुल्क नहीं वसूला जाएगा। सहारा की तरह ही मेयो अस्पताल में भी तमाम तरीके से मरीजों से वसूली होने के सुबूत मिले। मेयो में दवाइयों और आक्सीजन के नाम पर मरीजों से अतिरिक्त पैसा लिया जा रहा था।शासन ने कोरोना मरीजों से उपचार के लिए 18000 प्रतिदिन का पैकेज का निर्धारत किया है। इसमें हाइपरटेंशन व डायबिटीज से पीडि़त को-मॢबटीज रोगी भी शामिल हैं। इसी में बेड, भोजन नॄसग केयर, इमेजिंग सहित अन्य आवश्यक जांच, विजिट/कंसलटेंसी, चिकित्सक परीक्षण आदि सुविधा भी शामिल है। अल्प अवधि की हीमो डायलेसिस की सुविधा भी इसी 18 हजार के पैकेज में है।प्रशासन ने गोमतीनगर स्थित सन अस्पताल के संचालक अखिलेश पांडेय के खिलाफ आपदा एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करा दिया। डीएम अभिषेक प्रकाश के निर्देश पर विभूतिखंड थाने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज की। अस्पताल पर आक्सीजन होने के बावजूद मरीजों का इलाज नहीं करने का आरोप है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बोले- 'पहले टीका फिर परीक्षा

» प्रियंका वाड्रा ने शुरू किया 'जिम्मेदार कौन?' अभियान, कोरोना से बने हालात पर पूछेंगी सरकार से सवाल

» उत्तर प्रदेश सहकारिता विभाग की भर्तियों में जमकर हुई थी धांधली, SIT ने दर्ज किए छह और मुकदमे

» लखनऊ जेल लाया गया कुख्यात सुरेंद्र कालिया, धनंजय सिंह को फंसाने की रची थी सजिश

» लखनऊ में ससुराल में युवक की पीटकर हत्या

 

नवीन समाचार व लेख

» सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बोले- 'पहले टीका फिर परीक्षा

» इटावा में इलाज के नाम पर उगाही का मामला आया सामने, डॉक्टर बनकर मरीज के स्वजन से ठगे 75 हजार रुपये

» आरती शर्मा की हत्या के मामले में शूटर और पति को जेल, आरोपित भोलू की तलाश जारी

» कानपुर में युवती की हत्या के आरोप में प्रधान समेत पांच के खिलाफ मुकदमा

» उन्नाव में हिंदू युवती से विवाह की तैयारी कर रहा था दूसरे मत का युवक, अचानक पहुंची पुलिस