यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

एंबुलेंस चालक ने दी गलत जानकारी, रास्ते में खत्म हुई ऑक्सीजन, कोरोना संक्रमित गर्भवती की मौत


🗒 शनिवार, मई 08 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
एंबुलेंस चालक ने दी गलत जानकारी, रास्ते में खत्म हुई ऑक्सीजन, कोरोना संक्रमित गर्भवती की मौत

लखनऊ। लखनऊ के तेलीबाग की रहने वाली एक महिला ने अस्पतालों व निजी एंबुलेंस वालों की लापरवाही की वजह से जान गंवा दी। महिला को लखनऊ से गाेरखपुर के अस्पताल ले जाया जा रहा था। एंबुलेंस चालक ने परिवारीजनों को पर्याप्त ऑक्सीजन होने की गलत जानकारी दी जिसकी वजह से रास्ते में ऑक्सीजन खत्म होने से कोरोना संक्रमित गर्भवती की मौत हो गई।रायबरेली रोड, तेलीबाग निवासी 32 वर्षीय पूनम, कोरोना संक्रमित हो गई, जो कि 4-5 महीने की गर्भवती महिला थी। हालत बिगड़ने पर घरवालों ने पहले उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन इलाज के अभाव व ऑक्सीजन की कमी व धांधली को देखते हुए वहां से निकाल लिया। इसके बाद 20 अप्रैल को परिवारीजनों ने उसे लोकबंधु हॉस्पिटल में रजिस्ट्रेशन कराके किसी तरह भर्ती कराया। पूनम के भाई संजय के मुताबिक वहां भी ऑक्सीजन की कमी से इलाज में अफरा-तफरी मची रही। वहां भी उसके इलाज में लापरवाही की गई। पूनम अपने गर्भवती होने की दुहाई देती रही, लेकिन किसी ने नहीं सुना। पूनम के भाई संजय व उनके बहनोई ओम प्रकाश ने उसे गोरखपुर में भर्ती कराने की व्यवस्था की। 21 अप्रैल देर रात गोरखपुर जाने के लिए एक निजी एंबुलेंस बुक की। जहां उन्होंने ऑक्सीजन सिलिंडर की पर्याप्त व्यवस्था के बारे में पूछा तो एंबुलेंस वाले ने बताया कि उसके पास दो सिलिंडर है। अनिल ने बताया कि गोरखपुर के लिए एंबुलेंस को 28 हजार रुपये में बुक किया था। वहीं बाराबंकी पहुंचते ही एक ऑक्सीजन सिलिंडर खत्म हो गया। जिसके बाद जब वे दूसरा सिलिंडर लगाने चले तो पता चला कि वे पहले से ही खाली था।संजय ने बताया कि गर्भवती पूनम ने ऑक्सीजन के अभाव में दम तोड़ दिया। अनिल ने इसकी सूचना बाराबंकी के नजदीकी पुलिस चौकी में दी तो उन्होंने कार्यवाही से इन्कार करते हुए कहा कि इसका रिपोर्ट लखनऊ थाने में दर्ज होगी। इसके बाद अनिल व उनके बहनोई पूनम के कोविड पॉजिटिव की वजह से अंतिम संस्कार आदि में लग गए। गर्भवती पूनम के पति ओम प्रकाश ने एंबुलेंस मालिक छोटू शुक्ला निवासी ठाकुरगंज उसके चालक राजू पर लापरवाही के बारे में पुलिस को जानकारी दी। मृतका के भाई अनिल कुमार ने इस संबंध में पीजीआइ इंस्पेक्टर आनंद कुमार शुक्ला को जानकारी दी। इंस्पेक्टर आनंद ने कहा कि मामला गंभीर है इसकी जांच कर तुरंत कार्रवाई की जाएगी। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» UP में 9 IPS अधिकारियों का तबादला, 6 जिलों के बदले गए पुलिस कप्तान

» राम भक्तों के हत्यारे न दें कोई सलाह - केशव प्रसाद मौर्य

» ऑफ‍िस छोड़ OT पहुंचे परिवार कल्याण महानिदेशक डाॅ. राकेश

» लखनऊ एयरपोर्ट पर कस्टम ने पकड़ा 1.17 करोड़ का सोना

» वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेलिंग

 

नवीन समाचार व लेख

» सपा एमएलसी कमलेश पाठक और उनके भाइयों की करोड़ों की संपत्ति होगी कुर्क, डीएम ने दिया आदेश

» UP में 9 IPS अधिकारियों का तबादला, 6 जिलों के बदले गए पुलिस कप्तान

» पीएम मोदी ने की केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ बैठक

» इटावा में सरेराह युवती पर मनचलों ने फेंका तेजाब

» कानपुर देहात में TET पास कराने के नाम पर डेढ़ लाख की ठगी