यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उठी CBI जांच की मांग, विप सदस्य स्नातक खंड वाराणसी ने सीएम को लिखा पत्र


🗒 बुधवार, मई 26 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
उठी CBI जांच की मांग, विप सदस्य स्नातक खंड वाराणसी ने सीएम को लिखा पत्र

लखनऊ, । मुख्यमंत्री की इंटरनेट मीडिया शाखा में संविदा पर तैनात पार्थ श्रीवास्तव की आत्महत्या के मामले में पुलिस पर गंभीर सवाल उठने लगे हैं। विधान परिषद सदस्य स्नातक खंड वाराणसी आशुतोष सिन्हा ने पूरे मामले की सीबीआइ जांच की मांग की है। उन्होंने पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा है कि पुलिस का रवैया ठीक नहीं है। वह दबाव में है। ऐसे में प्रकरण की जांच सीबीआइ से कराई जाए। उन्होंने मुख्यमंत्री को इस बाबत पत्र भेजा है।आशुतोष सिन्हा ने कहा कि पीडि़त परिवार को आरोपितों से खतरा है। ऐसे में उनकी सुरक्षा सुनिश्चित होनी चाहिए। उन्होंने पीडि़त परिवार को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने की मांग भी की है। इसके लिए उन्होंने मुख्य सचिव और डीजीपी को भी पत्र लिखा है। पत्र में लिखा है कि वरिष्ठ सहयोगियों की प्रताडऩा से तंग आकर पार्थ ने जान दी है। मुख्यमंत्री कार्यालय के किसी कर्मचारी की आत्महत्या की विवशता निश्चित तौर पर सीएम की छवि धूमिल करने वाली निंदनीय घटना है। विधान परिषद सदस्य ने नामजद आरोपितों को सेवा से बर्खास्त कर उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की है। उधर, पुलिस विवेचना किए जाने की बात कह रही है। हालांकि, विवेचक से जब इस मामले पर पूछा गया कि अभी तक आरोपितों से पूछताछ हुई है या नहीं। इसके जवाब में वह टालमटोल करने लगे। इस मामले में शुरू से पुलिस की हीलाहवाली रही है।पार्थ के मोबाइल से उसका ट्वीट किसने डिलीट किया, इसका भी जवाब पुलिस के पास नहीं है। गौरतलब है कि पार्थ ने वरिष्ठ सहयोगी पुष्पेंद्र सि‍ंह और शैलजा की प्रताडऩा से परेशान होकर आत्महत्या कर ली थी। पार्थ ने सुसाइड नोट में दोनों को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया था। इसके अलावा भी कई लोगों के नाम लिखे थे। पार्थ ने सुसाइड नोट में सूचना निदेशक शिशिर सि‍ंह से कार्रवाई की मांग की थी।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ से म‍िले सि‍ंगापुर के उच्चायुक्त

» भारत बंद का सपा समर्थन में तो व‍िरोध में उतरेंगे व्यापारी

» छात्रा के खाते में लौटाए आठ लाख अस्सी हजार रुपये

» चौक सर्राफा बाजार में जीएसटी टीम का छापा, साढे़ तीन क्विंटल चांदी सीज

» 'टिक-टाक गर्ल' को एक्ट्रेस बनाने का झांसा देकर शारीरिक शोषण- FIR

 

नवीन समाचार व लेख

» थानेे में पहुंच गैंगस्टर बोला, कभी नहीं करूंगा अपराध

» खेलने के बहाने बच्चे को घर से बुलाकर सामूहिक कुकर्म

» सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ से म‍िले सि‍ंगापुर के उच्चायुक्त

» भारत बंद का सपा समर्थन में तो व‍िरोध में उतरेंगे व्यापारी

» गुरुकुल, मदरसा, मिशनरी और वैदिक स्कूल के लिए समान शिक्षा संहिता की मांग