यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि को लेकर कांग्रेस के प्रदर्शन पर यूपी सरकार का पलटवार


🗒 शुक्रवार, जून 11 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि को लेकर कांग्रेस के प्रदर्शन पर यूपी सरकार का पलटवार

लखनऊ । पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि को लेकर शुक्रवार को हुए कांग्रेस के धरना प्रदर्शन और विपक्षी दलों के आलोचनात्मक स्वर के बीच उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने विपक्ष पर पलटवार किया है। विपक्ष को अपने गिरेबान में झांकने की नसीहत देते हुए उन्होंने कहा है कि धरना प्रदर्शन करने वालों को यह देखना चाहिए की गैर भाजपा शासित राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेश में पेट्रोल और डीजल पर लगाए गए वैट व सेस की दर सबसे कम है।वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने विपक्ष पर कटाक्ष किया, यह कहते हुए कि 'आईना जब भी उठाया करो, पहले देखा करो फिर दिखाया करो'। विपक्ष को नसीहत भी दी कि बिना तथ्यों को समझे दैनिक जीवन की सामान्य गतिविधियों में बाधा पहुंचाना ठीक नहीं है।बता दें कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर पेट्रोल-डीजल व आवश्यक उपभोक्ता वस्तुओं के लगातार बढ़ रहे दाम के विरोध में भाजपा सरकार के खिलाफ शुक्रवार को प्रदेश भर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। कई जिलों में प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया। लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने प्रदर्शन से पहले ही हाउस अरेस्ट कर लिया। बाद में लल्लू अपने आवास के बाहर एकत्रित कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन के लिए सड़क पर उतर आए। पुलिस ने उन्हें भी कार्यकर्ताओं के साथ गिरफ्तार कर लिया।प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को अस्थाई जेल में संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली जनविरोधी सरकार ने चंद उद्योगपति मित्रों को लाभ पहुंचाने व पेट्रोल व डीजल पर भारी भरकम टैक्स लगाकर देशवासियों को महंगाई की मार झेलने के लिए विवश कर दिया है। एक तरफ कोरोना महामारी से रोजगार समाप्त हुए तो दूसरी तरफ भाजपा सरकार द्वारा निर्मित महंगाई प्रदेश व देशवासियों की दुश्मन बन चुकी है। लगातार पेट्रोल-डीजल के दामों में बेतहाशा वृद्धि से आम जनमानस की जेब पर डाका डाला जा रहा है। लल्लू ने कहा कि मोदी सरकार ने पेट्रोल व डीजल पर अनाप-शनाप टैक्स लगाकर सात साल में जनता की जेब से लूटकर 2.94 लाख करोड़ रुपये कमाए हैं।