यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उत्तर प्रदेश आइटीआइ कर्मचारी संघ की मांग, आनलाइन और मेरिट के आधार पर हो तबादला


🗒 रविवार, जुलाई 04 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
उत्तर प्रदेश आइटीआइ कर्मचारी संघ की मांग, आनलाइन और मेरिट के आधार पर हो तबादला

लखनऊ,। उत्तर प्रदेश औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कर्मचारी संघ ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ज्ञापन भेजकर तबादलों को लेकर गैंक सक्रिय हो गया है। इस पर रोक लगाने के लिए आनलाइन और मेरिट के आधार पर तबादले किए जाएं। संघ की महामंत्री अर्चना मिश्रा ने बताया कि स्थानांतरण प्रक्रिया मानव संपदा पोर्टल के माध्यम से न करके विभाग द्वारा आफलाइन तरीके से किए जाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है। आफलाइन तैनाती व स्थानांतरण होने से विभाग के दलाल एवं भ्रष्टाचारी तबादला उद्योग माफिया पूरे प्रदेश में सक्रिय हो गए हैं। अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने बताया कि कार्यदेशकों की तैनाती वह ट्रांसफर के नाम पर धन उगाही जगह-जगह शुरू हो गई है।कर्मचारियों में दूर तैनाती का भय दिखा कर कर्मचारी का शोषण किया जा रहा है, जबकि मुख्यमंत्री जी के सख्त निर्देश हैं कि स्थानांतरण आनलाइन पारदर्शी तरीके से किए जाएं। आफलाइन स्थानांतरण किए जाने से ईमानदारी से तैनाती पाने एवं स्थानांतरण की आस लगाए बैठे कर्मचारियों का अहित होना तय है। वहीं, बेसिक शिक्षा विभाग जैसे बड़े विभाग में भी स्थानांतरण आनलाइन मानव संपदा पोर्टल से ही किया गया है। ऐसे में सवाल यह उठता है जब शिक्षा विभाग में में तबादले आनलाइन हो रहे तो इस विभाग में क्यों नहीं ? इससे पूर्व में इसी विभाग में पदोन्नति प्राप्त कार्यदेशकों की तैनाती के समय आनलाइन स्थानांतरण विकल्प मांग की जा चुकी है। आनलाइन तैनाती प्रक्रिया ना होने से भ्रष्टाचारियों का बोलबाला होगा और प्रदेश सरकार की छवि भी धूमिल होगी। संघ पुरजोर तरीके से मांग करता है कि पूर्व की ही भांति कर्मचारियों से कम से कम 10 विकल्प और तबादले हर हाल में आनलाइन, कोविड संक्रमण के मद्देनजर जरूरी तबादल और पारस्परिक और स्वतः अनुराध पर तबादले किए जाए।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» पूर्व निदेशक साक्षरता के विरुद्ध विजिलेंस जांच शुरू

» लखनऊ में धूं-धूं कर जली एसी जनरथ

» UP विजिलेंस ने भ्रष्ट अधिकारियों-कर्मियों के विरुद्ध कसा शिकंजा

» भाजपा विधायक जनता के बीच जाकर खुद सुनाएंगे अपना रिपोर्ट कार्ड

» भाजपा पिछड़ा मोर्चा की अयोध्या में बैठक, शामिल होंगे सीएम योगी आदित्यनाथ