यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ में रिवर फ्रंट के पास मिली युवक की साइकिल, गोमती में कूदने की आशंका


🗒 मंगलवार, जुलाई 20 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लखनऊ में रिवर फ्रंट के पास मिली युवक की साइकिल, गोमती में कूदने की आशंका

लखनऊ,। राजधानी में सोमवार देर रात एक युवक के गोमती बैराज छलांग लगाने की आशंका से सनसनी फैल गई। युवक ने रात में अपने एक मित्र को फोन करके कूदने की बात कही थी जिसके बाद से उसकी तलाश की जा रही है। परिवारीजन जब उसे ढूंढ़ते हुए गोमती बैराज पर पहुंचे तो वहां उसकी साइकिल मिली। जिसके बाद से उसका सर्च ऑपरेशन चल रहा है।इंदिरानगर के रहने वाले अभय श्रीवास्‍तव 18 एक खिलौने की दुकान पर काम करता है। अभय ने सोमवार रात साढ़े 10 बजे करीब दोस्‍त सदान को फोन करके आत्‍महत्‍या करने की बात कही। अभय ने सदान से कहा कि मैं अपनी लाइफ से परेशान हो चुका हूं और आत्‍महत्‍या करने जा रहा हूं। इसी बीच सदान ने उसे समझाते हुए बहन कीर्ति को कांफ्रेंस पर ले लिया। कीर्ति ने उसे समझाते हुए घर आने के लिए कहा। कीर्ति के समझाने के बाद अभय ने घर आने की बात कही। जब एक घंटे तक अभय घर वापस नहीं आया तो परिवारीजनों ने उसे फोन लगाया, लेकिन फोन स्विच ऑफ आया। जिसके बाद परिवारीजन उसकी तलाश में निकले।काफी ढूंढ़ने के बाद रिवर फ्रंट गोमती बैराज के पास उसकी साइकिल मिली। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। रात होने की वजह से सर्च ऑपरेशन शुरू नहीं हुआ, लेकिन सुबह सात बजे से एनडीआरएफ की टीम उसे ढूंढ़ने में लग गई। हालांकि घंटों की मशक्‍कत के बाद भी उसका कोई पता नहीं चला। वहीं जीजा अमित प्रजापति ने बताया कि अभय ने फोन पर कुछ उधार चुकाने की बात भी कही थी।पुलिस का कहना है कि अभय की तलाश की जा रही है। अभी कुछ भी कहना उचित नहीं है। अभय ने आत्महत्या की बात क्यों कही, इसके बारे में पता नहीं चल सका है। बारिश की वजह से नदी में अभय की तलाश में समस्या आ रही है।