यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आदिवासियों के भी अधिकारों की लड़ाई लड़ेगी सपा


🗒 सोमवार, जुलाई 26 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आदिवासियों के भी अधिकारों की लड़ाई लड़ेगी सपा

लखनऊ। समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश में मिशन 2022 के तहत समाज के अलग-अलग वर्गों को लुभाने में जुट गई है। इसी कड़ी में समाजवादी पार्टी अब आदिवासियों को भी रिझाने की कोशिश कर रही है। समाजवादी पार्टी आदिवासियों को उनका हक जल, जंगल, जमीन दिलाने के लिए विश्व आदिवासी दिवस पर नौ अगस्त को सोनभद्र के उम्भा में कार्यक्रम भी करने जा रही है।सोनभद्र का उम्भा गांव 17 जुलाई 2019 को उस समय सुर्खियों में आ गया था, जब यहां एक सोसाइटी की जमीन पर कब्जे को लेकर हुए विवाद में दबंगों ने गोली मारकर 11 आदिवासियों की हत्या कर दी थी। उस समय भी समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उम्भा कांड के पीड़ितों की आर्थिक मदद की थी। अब समाजवादी पार्टी उम्भा में विश्व आदिवासी दिवस पर नौ अगस्त को यहां कार्यक्रम करने जा रही है। इसका आयोजन समाजवादी पार्टी अनुसूचित जनजाति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष व्यास जी गोंड कर रहे हैं। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल शामिल होंगे।आदिवासी दिवस के बहाने समाजवादी पार्टी की नजर अनुसूचित जनजाति मतदाताओं पर है। यहां यह संदेश देने की कोशिश होगी कि आदिवासियों के हक की लड़ाई में सपा उनके साथ है। सपा यहां आदिवासियों के देवता जय बड़ादेव के साथ ही आदिवासी नेता व लोकनायक बिरसा मुंडा को भी याद करके भावनात्मक रूप से आदिवासियों को जोड़ने की कोशिश करेगी।समाजवादी पार्टी का छह सदस्यीय जांच दल मंगलवार को गोरखपुर पहुंचेगा। यह दल ग्राम उनवली के पूर्व प्रधान अनिल कन्नौजिया के छोटे भाई ग्राम पंचायत अधिकारी अनीस कन्नौजिया की गोपालपुर चौराहे पर दिनदहाड़े हुई हत्या की जांच करेगा। जांच दल पीडि़त परिवार से भी मिलकर सांत्वना देगा। दल में एमएलसी संतोष यादव सनी, पूर्व विधायक श्रीपति आजाद, लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष डा. राम करन निर्मल, पूर्व मंत्री रामभुआल निषाद, अवधेश यादव व कृष्ण कुमार त्रिपाठी शामिल हैं।