यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पशुपालकों को प्रति पशु 30 हजार रुपये तक आर्थिक सहायता


🗒 सोमवार, अगस्त 23 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पशुपालकों को प्रति पशु 30 हजार रुपये तक आर्थिक सहायता

लखनऊ, । बाढ़ और दैवी आपदा में हर प्रभावित की मदद को योगी सरकार ने पूरी व्यवस्था कर रखी है। राहत सामग्री वितरण, जन हानि व क्षतिग्रस्त मकानों के लिए भरपूर आर्थिक मदद के साथ ही पशु हानि पर प्रति पशु 30 हजार रुपये तक क्षतिपूर्ति का प्रावधान किया गया है। यही नहीं आपदा में यदि किसी शिल्पकार-दस्तकार के औजार का नुकसान हुआ तो उसे भी मदद दी जाएगी।यूपी सरकार के प्रवक्ता के अनुसार मानसून के दौरान कई जिले बाढ़ प्रभावित हैं। इस आपदा में यदि किसी पशुपालक के पशु की मृत्यु हो जाती है तो उसे परेशान होने की जरूरत नहीं है। आपदा में बड़े दुधारू पशु (भैंस, गाय आदि) की मृत्यु होने पर सरकार पशुपालक को 30 हजार रुपये प्रति पशु की दर से आर्थिक सहायता करेगी। छोटे दुधारू पशु (बकरी, भेड़, सुअर) की मृत्यु पर तीन हजार रुपये प्रति पशु, गैर दुधारू बड़े पशु (ऊंट, घोड़ा, बैल) के लिए 25 हजार प्रति पशु तथा दुधारू छोटे पशु (गाय-भैंस के बच्चे) के लिए 16 हजार रुपये प्रति पशु के हिसाब से मदद मिलेगी।इस प्रावधान में कुक्कुट को भी शामिल किया गया है। कुक्कुट पालन करने वालों को 50 रुपये प्रति कुक्कुट की सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। ये प्रावधान न सिर्फ बाढ़ बल्कि बादल फटने, आग, सूखा, चक्रवात, बेमौसम भारी बारिश, आंधी-तूफान, आकाशीय बिजली गिरने जैसी आपदाओं के लिए भी हैं।आपदा में यदि किसी शिल्पकार-दस्तकार का औजार क्षतिग्रस्त हुआ तो उसे भी सरकार पुनः औजार खरीदने के लिए आर्थिक सहायता देगी। औजार का नुकसान होने पर प्रति शिल्पकार 4100 रुपये की धनराशि मिलेगी। साथ ही यदि किसी दस्तकार का कच्चा माल या निर्मित/अर्धनिर्मित उत्पाद खराब हुआ तो इसके लिए भी 4100 रुपये प्रति दस्तकार की दर से धनराशि मुहैया कराई जाएगी।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» कांग्रेस समेत कई दलों के नेता समाजवादी पार्टी में शामिल

» श्रीराम के जयकारे के साथ लखनऊ के ऐशबाग में जला रावण

» मौलाना कलीम के खातों की पड़ताल तेज

» एसआइटी टीम पड़ताल करने लखनऊ पहुंची

» एसआइटी को आरोपित अंकित दास के फ्लैट में मिली रिपीटर गन तथा पिस्टल