यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आंसुओं ने पाट दी अखिलेश और बिछड़े बुजुर्गों के बीच खाई, अब पुराने महारथियों को वापस लाने में जुटे सपा मुखिया


🗒 शनिवार, अगस्त 28 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आंसुओं ने पाट दी अखिलेश और बिछड़े बुजुर्गों के बीच खाई, अब पुराने महारथियों को वापस लाने में जुटे सपा मुखिया

लखनऊ, समाजवादी पार्टी की नई पीढ़ी में जोश भरने के लिए तो यह नारा ठीक है, लेकिन अब शायद अखिलेश यादव को अहसास हो गया है कि इस तपती हुई चुनौती भरी डगर पर पुराने बरगद की छांव कितनी जरूरी है। हाल के वर्षों में तमाम कारणों से अखिलेश और बिछड़े बुजुर्गों के बीच चौड़ी होती गई खाई को आखिरकार पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी के आंसुओं ने पाट ही दिया। सपा मुखिया ने स्पष्ट कर दिया है कि अब उनका भी मन 'मुलायम' है और पिता मुलायम सि‍ंह यादव के अनुभवी महारथियों को साथ लाकर अपनी ताकत बढ़ाएंगे।सपा संस्थापक व पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सि‍ंह के करीबी और रणनीतिकारों में शामिल रहे अंबिका चौधरी शनिवार को बसपा छोड़कर सपा में लौट आए। बलिया के इस दिग्गज नेता की घर वापसी के पीछे उनकी राजनीतिक मजबूरियां हो सकती हैं, लेकिन भावुक होने पर उनकी आंखों से निकले आंसुओं ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए सपा की उम्मीदों को काफी कुछ सींच दिया। वह और भी कुछ कहना चाहते थे, लेकिन बोल न सके। खैर, कोई फर्क नहीं पड़ता। इसके बाद जो अखिलेश के शब्द थे, वह महत्वपूर्ण हैं। सिर्फ सपा ही नहीं, बल्कि कई प्रतिद्वंद्वी दलों की सियासी कहानी बदल सकने वाले हैं। सपा के नौजवान राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा- 'पुराने समाजवादी कितने कष्ट से दूसरे दलों में गए हैं, इसका अहसास आज अंबिका चौधरी को देखकर मुझे हुआ है। मेरी कोशिश रहेगी नेताजी (मुलायम सि‍ंह यादव) से जुड़े हुए जितने पुराने साथी हैं, उन्हें पार्टी से जोड़ा जाए। न जाने क्यों बहुत मजबूत रिश्ते आसानी से टूट जाते हैं, लेकिन अब फिर से सब सही हो रहा है। राजनीति में उतार-चढ़ाव आते हैं, लेकिन सही समय पर जो साथ आए वही साथी है। ये वो लोग हैं, जिनके भाषण सुनते हुए हमने समाजवाद सीखा।' 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर और उनकी पत्नी पर लखनऊ में मुकदमा

» घर के अंदर मिला बुजुर्ग का शव, कान से निकल रहा था खून

» ज्वैलरी शॉप में दिन दहाड़े 15 लाख की डकैती, बुर्का पहनकर दुकान में घुसे थे बदमाश

» लखनऊ में पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की थी पत‍ि की हत्‍या

» मुख्तार के बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी समाजवादी पार्टी में शामिल, अम्बिका चौधरी की भी घर वापसी

 

नवीन समाचार व लेख

» फर्जी फर्म बना पांच माह में 93 लाख रुपये की आइटीसी हड़पी, रिपोर्ट दर्ज

» पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर और उनकी पत्नी पर लखनऊ में मुकदमा

» आंसुओं ने पाट दी अखिलेश और बिछड़े बुजुर्गों के बीच खाई, अब पुराने महारथियों को वापस लाने में जुटे सपा मुखिया

» औरैया में वेश बदलकर आए युवकों ने महिला से की टप्पेबाजी

» सगाई में आई 20 साल की लड़की, शादी के समय हो गई 50 साल