यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ में हिस्ट्रीशीटर की हत्‍या में एक और आरोपित शामिल, रेकी और मुखबरी करने पर FIR दर्ज; वर्चस्व को लेकर हुई हत्‍या


🗒 रविवार, सितंबर 12 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लखनऊ में हिस्ट्रीशीटर की हत्‍या में एक और आरोपित शामिल, रेकी और मुखबरी करने पर FIR दर्ज; वर्चस्व को लेकर हुई हत्‍या

लखनऊ, । कैंपबेल रोड पर शनिवार रात सआदतगंज थाने के हिस्ट्रीशीटर अनवर उर्फ अन्नू की गोली मारकर हत्या के आरोपित शारिक को पुलिस ने रविवार को जेल भेज दिया है। वहीं, शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद उसे परिवारजन को सौंप दिया गया। सुरक्षा के लिहाज से पुलिस बल मुस्तैद रही। शांति व्यवस्था के बीच घरवालों ने शव को दफन कर दिया।एडीसीपी पश्चिम चिरंजीव नाथ सिन्हा के मुताबिक प्रारंभिक छानबीन में सामने आया है कि शारिक ने वर्चस्व को लेकर अनवर की हत्या की है। पुलिस की टीमें कई बिंदुओं पर पड़ताल कर रही है। पीड़ित परिवार ने शारिक के अलावा अली नाम के युवक को भी एफआइआर में नामजद किया है। अली पर रेकी व मुखबिरी का आरोप है। पुलिस की टीमें अली की तलाश में दबिश दे रही हैं। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बताया जा रहा है कि अली ने ही शनिवार को शारिक को फोन कर अनवर के वाजपेयी मिष्ठान भंडार आने की जानकारी दी थी। हत्या की साजिश में अली के अलावा एक अन्य युवक की संलिप्तता भी सामने आई है। हालांकि पुलिस उसकी भूमिका की जांच कर रही है। आरोपित ने पुलिस से कहा है कि अनवर उसकी बेटी पर गलत नजर रखता था। हालांकि आरोपित ने इस बारे में कभी पुलिस से शिकायत नहीं की। यही नहीं, शारिक और अनवर के बीच इसको लेकर कभी विवाद भी नहीं हुआ। ऐसे में पुलिस शारिक के घरवालों से पूछताछ की तैयारी कर रही है। गौरतलब है कि शनिवार रात में अनवर को शारिक ने गोली मार दी थी। शारिक को मौके से स्थानीय लोगों ने पकड़कर पुलिस को सौंप दिया था। अनवर पर अलग अलग थानों में कुल 17 मुकदमे दर्ज हैं।चौपटिया का रहने वाला अनवर शनिवार रात में वाजपेयी मिष्ठान भंडार की तरफ आया था। इसी दौरान पहले से घात लगाए शारिक ने उसके सिर में गोली मार दी। अनवर लहूलुहान होकर सड़क पर गिर गया। सरेराह हत्या की वारदात से अफरातफरी मच गई। व्यापारी दुकानें बंद कर घर जाने लगे। इस बीच कुछ लोगों ने वीडियो बना लिए, जो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो में कुछ लोग तीन लोगों को पकड़े दिख रहे हैं। वहीं दूसरे वीडियो में पुलिस भीड़ से तीनों को छुड़ाकर अपने साथ ले जाते दिखी जबकि अनवर सड़क पर लहूलुहान पड़ा है। बताया गया कि दो माह पहले सआदतगंज पुलिस ने अनवर को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। कुछ दिन पहले ही वह जमानत पर छूटकर आया था। अनवर पर कई मुकदमे दर्ज थे। पुलिस आरोपित शारिक से हत्या का कारण जानने के लिए पूछताछ कर रही है। पुलिस टीम आसपास लगे सीसी फुटेज खंगाल रही है, जिससे यह पता लगाया जा सके कि शारिक अकेला था या उसके साथ और लोग भी मौजूद थे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» कार चालक ने ट्रैफिक पुलिस को सरेराह पीटा, मोबाइल भी तोड़ा; गिरफ्तार

» फर्जी है स्कूल स्टाफ सेलेक्शन बोर्ड

» रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिला लखनऊ चिकनकारी एसोसिएशन

» 26 सितंबर को पीएम मोदी करेंगे लोकार्पण

» प्रियंका वाड्रा ने अमेठी में पीड़ित परिवार का बंधाया ढांढस

 

नवीन समाचार व लेख

» किशोर के हत्यारोपित समेत छह को डकैती की साजिश रचते दबोचा

» वीडियो बनाना महिला को पड़ा महंगा, पीटकर किया अधमरा

» परीक्षा देने आए डाक्टरों पर पथराव, विवाद के बाद दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

» संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत

» प्लॉट पर कब्जे को लेकर दो पक्षों में खूनी संघर्ष, महिला सहित चार घायल