यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मनचले स‍िपाही का मैसेज वायरल


🗒 सोमवार, सितंबर 13 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मनचले स‍िपाही का मैसेज वायरल

लखनऊ, । मुस्कुराती हुई प्यार भरी इमोजी के साथ एक सिपाही ने थाने आयी फरियादी युवती के वाट्सएप पर मैसेज किया। इसके बाद लिखा कि मैडम आपको जींस और टीशर्ट में देखने का मन था। अब आप दोबारा थाने कब आओगी। सोमवार को वाट्सएप चैट के मैसेज इंटरनेट मीडिया पर स्क्रिन शाट के साथ वायरल हुए। बताया जा रहा है कि मैसेज आशियाना थाने के एक आशिक मिजाज सिपाही का है। उस सिपाही ने यह मैसेज थाने में आयी फरियादी युवती के वाट्सएप पर किए। थाने के किस सिपाही ने यह मैसेज फरियादी युवती को किए इसकी जांच इंस्पेक्टर आशियाना द्वारा की जा रही है।जानकारी के मुताबिक युवती का किसी से रुपयों को लेकर विवाद चल रहा था। इस पर उसने थाने में प्रार्थनापत्र दिया था। सिपाही के हाथ में प्रार्थनापत्र पहुंचा। सिपाही ने उसे फोन करके दो दिन पहले थाने बुलाया था। सिपाही के बुलाने पर युवती थाने पहुंची। थाने में युवती को सिपाही नहीं मिला इसके बाद वह वापस लौट गई। युवती के मुताबिक रात में सिपाही ने उसे हाय, हेलो का मैसेज किया। जब युवती ने कोई जवाब नहीं दिया तो सिपाही ने फिर मैसेज किया। युवती ने लिखा कि थाने आए थे आप मिले नहीं। सिपाही ने लिखा कि जी किसी काम से बाहर गया था। लेकिन सुना कि आप आयी थीं। आज नए लुक में जींस-टीशर्ट में थीं। देखने का मन था आपको अफसोस। सिपाही ने कहा अब कब आओगी मैडम। इसके बाद कुछ अन्य मैसेज भी सिपाही ने किए।सिपाही के मैसेज से युवती परेशान हो गई। उसने अपने परिवारीजन को जानकारी दी। परिवारीजन ने बदनामी के डर से युवती को चुप करा दिया। युवती के चुप होने पर सिपाही और मैसेज करके उसे परेशान करने लगा। युवती ने इसके बाद थाने में शिकायत की। इंस्पेक्टर बताया कि युवती सिपाही का नाम नहीं बता रही है। युवती के मोबाइल में पुलिस के नाम से एक नंबर फीड है। वह नंबर की जानकारी भी नहीं दे रही है। हालांकि थाने के सिपाहियों को बुलाकर पूछताछ की जा रही है।