यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जमीनी विवाद को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़े


🗒 मंगलवार, सितंबर 14 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
जमीनी विवाद को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़े

लखनऊ - बंथरा इलाके में मंगलवार को जमीनी विवाद को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़ गए इस भिड़ंत की सूचना पर पहुंची पुलिस दोनों पक्षों को थाने ले आई ।इस दौरान वहां पर भी पुलिस की मौजूदगी में दोनों पक्ष एक दूसरे से फिर भिड़ गए और हाथापाई तक हो गई। इतना ही नहीं दोनों पक्षों ने एक दूसरे के ऊपर थप्पड़ बाजी भी शुरू कर दी। थाना परिसर में मारपीट होते देख पुलिस ने किसी तरह उन्हें समझा-बुझाकर शांत कराया । फिलहाल इस मामले में पुलिस ने दोनों पक्षों की ओर से मामला दर्ज कर लिया है। कृष्णा नगर के सेक्टर - डी एलडीए कॉलोनी कानपुर रोड निवासी सुनील कुमार सहगल के मुताबिक उन्होंने काफी दिन पहले सिकंदरपुर बंथरा में आशा तिवारी पत्नी स्व. सुरेंद्र नाथ तिवारी व दीपांकर तिवारी पुत्र स्व. सुरेंद्र नाथ तिवारी से 25 सितंबर 2018 को 8840 वर्ग फुट जमीन खरीदी थी। लेकिन जब उस पर निर्माण कराने पहुंचे तो अरविंद तिवारी और सोनू तिवारी ने यह कहते हुए निर्माण कार्य रुकवा दिया कि निर्माण करवाने के लिए गुंडा टैक्स के रूप में 10 लाख रुपए देना होगा। बिना यह रकम दिए काम नहीं करने दिया जाएगा। आरोप है कि पीड़ित ने इस मामले को लेकर कई बार थाने पर लिखित शिकायत की, लेकिन आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हो सकी । जिसके बाद पीड़ित ने न्यायालय की शरण ली। मंगलवार को फिर जमीन पर पहुंचकर निर्माण कार्य शुरू करवाया तो अरविंद तिवारी व सोनू तिवारी अपने करीब 8-10 साथियों के साथ मौके पर पहुंचे और गाली गलौज करने लगे। जिसको लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस दोनों पक्षों को थाने ले आई। लेकिन थाने पर फिर दोनों पक्ष भिड़ गए। दोनों पक्षों में विवाद होने के साथ ही नोकझोंक हो गई और एक दूसरे को थप्पड़ से पिटाई करने लगे। हालाकि घटना के दौरान थाना परिसर में मौजूद सिपाहियों ने रोकने की कोशिश की, लेकिन इसके बावजूद थाने पर दोनों पक्ष काफी देर तक एक दूसरे के प्रति धक्का-मुक्की करते रहे। बाद में मामला बढ़ता देख पुलिस फोर्स ने किसी तरह दोनों पक्षों को अलग करते हुए उन्हें समझा-बुझाकर शांत कराया । इस मामले में सुनील कुमार सहगल ने अरविंद तिवारी और सोनू तिवारी सहित उनके 8 -10 अज्ञात साथियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। जबकि अरविंद तिवारी ने सुनील सहगल और सुरेश शुक्ला सहित 10-12 अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। अरविंद तिवारी का कहना है कि यह सभी लोग पूर्वाह्न करीब 11 बजे अचानक उसके घर में घुसकर तोड़फोड़ करने लगे। जब अरविंद तिवारी ने विरोध किया तो आरोपियों ने उसकी पिटाई कर दी और जान से मारने की धमकी भी दी। फिलहाल पुलिस दोनों ओर से रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» 100 से ज्यादा पीसीएस अधिकारियों के तबादले

» राहुल गांधी व प्रियंका वाड्रा, मृत किसानों के परिवारों से कर रहे मुलाकात

» ट्रकों का इंजन व चेसिस नंबर बदलकर लेते थे लोन, एसटीएफ ने दबाेचा

» स्मार्टफोन से लैस होंगी 80 हजार आशा बहुयें

» लखनऊ हवाई अड्डे पर डेढ़ घंटे चला हाई वोल्टेज ड्रामा