यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

योजना बनाकर करते हैं वारदात; पकड़े जाने पर काट देते हैं गला


🗒 गुरुवार, अक्टूबर 14 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
योजना बनाकर करते हैं वारदात; पकड़े जाने पर काट देते हैं गला

लखनऊ, । युवती के चेहरे पर ब्लेड से ताबड़तोड़ वार करने वाले सिरफिरे आशिक को जानकीपुरम पुलिस ने बुधवार को दबोच लिया है। आरोपित युवक शुभम राज उर्फ मोंटी पुत्र राजीव कुमार मूलरूप से नई दिल्ली के दक्षिणीपुरी अम्बेडकर निकट विराट सिनेमा का रहने वाला है। इसके तार दिल्ली के ब्लेड मार गैंग से जुड़े हैं। बीते आठ अक्टूबर को जानकीपुरम के सेक्टर छह में रहने वाली स्नातक की छात्रा घर के बाहर किसी काम से निकली थी। इसी बीच आरोपित शुभम राज उर्फ मोंटी वहां पहुंच गया। शुभम ने शोर मचाते हुए युवती से कहा कि तुम मेरी नहीं हो सकती तो मैं तुम्हें किसी और का भी नहीं होने दूंगा। इसके बाद उसने साथ लाए ब्लेड से युवती के चेहरे पर कई वार कर दिए। युवती लहूलुहान हो गई, जिसे परिवारजन ट्रामा सेंटर लेकर गए।युवती की मां ने बताया कि आरोपित का नाम शुभम है, जो आसपास ही रहता है। प्रभारी निरीक्षक कुलदीप सिंह गौर ने बताया कि ने युवती की मां की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर टीम गठित कर आरोपित की तलाश की जा रही थी। आठ से 12 अक्टूबर तक करीब दर्जनभर स्थानों पर छापेमारी की लेकिन आरोपित का पकड़ से दूर रहा। वह युवती पर दोबारा वार करने के फिराक में था। उन्होंने बताया कि छानबीन में पता चला कि आरोपित के रिश्तेदार कैंट में रहते हैं। उनको भी हिरासत में लेकर कई बार पूछताछ की गई लेकिन उन्हें कोई जानकारी नही थी। शुभम हादसे के दिन ही दिल्ली से आया था और घटना को अंजाम देकर शहर के अलग-अलग हिस्सों में भ्रमण कर रहा था। बुधवार को सर्विलांस की मदद व मुखबिर की सूचना पर उसे भिठौली तिराहे के पास से दबोच लिया गया। भिठौली तिराहे पर वह दिल्ली भागने की फिराक में बस पकड़ने के लिए खड़ा था।इंटरनेट मीडिया के जरिए आरोपित ने की थी दोस्ती युवती से कुछ दिन पहले इंटरनेट मीडिया के जरिए आरोपित ने दोस्ती की थी। तब से वह उसका पीछा करता था। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले युवती ने शुभम को पीछा करने से मना किया था और उससे बात नहीं कर रही थी। इससे आरोपित नाराज था और हमला कर दिया था। दिल्ली के ब्लेड मार गैंग से जुड़े तारप्रभारी निरीक्षक कुलदीप सिंह गौर ने बताया कि गिरफ्तार किया गया नशेड़ी है। जिस तरह युवती के चेहरे पर इसने वार किए हैं ऐसे हमले दिल्ली के ब्लेड मार गैंग करते हैं। इस दिशा में भी जांच की जा रही है।पुलिस के मुताबिक, ब्लेड मार गैंग सुनियोजित तरीके से वारदात को अंजाम देते हैं और पकड़े जाने पर खुद को घायल कर लेते हैं ताकि उन्हें छोड़ दिया जाए। एक शख्स अपने पास कम से कम 10 ब्लेड रखता हैं। इन ब्लेड्स को ये अपने मुंह, हाथ, कपड़े और चप्पलों में छिपाते हैं।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» घटनास्थल पहुंची SIT, घटना का री-क्रिएशन

» सातों चोर को पुलिस ने दौड़ाकर पकड़ा

» महंगी शराब और गर्लफ्रेंड की जरूरतों को पूरा करने के लिए करते थे चोरी

» गांवों में आटा-चक्की लगाने के लिए एक लाख रुपये तक देगी योगी सरकार

» दीपावली से पहले यूपी के ग्राम्य विकास विभाग के अफसरों को मिला प्रमोशन का तोहफा