यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

ध्यांचल डिस्काम के बिजली आशुलेखकों का चतुर्थ वार्षिक सम्मेलन


🗒 शनिवार, अक्टूबर 16 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
ध्यांचल डिस्काम के बिजली आशुलेखकों का चतुर्थ वार्षिक सम्मेलन

लखनऊ  । उच्च न्यायालय के आदेशों के अनुपालन में 1970 के रेग्यूलेशन की बहाली तथा एक डिस्काम से दूसरे डिस्काम में में स्थानान्तरण का विकल्प दिया जाना मुख्य मुद्दा होगा।भारतीय मजदूर संघ से सम्बद्ध विद्युत परिषद आशुलेखक संघ उ प्र के मध्यांचल डिस्काम के आशुलेखको का चतुर्थ वार्षिक सम्मेलन आगामी 17 अक्टूबर 2021 को ए एस के पैलेस, खुर्रम नगर, लखनऊ में आयोजित होगा जिसका उद्घाटन विद्युत परिषद् आशुलेखक संघ के केन्द्रीय अध्यक्ष श्री विजय कुमार सिंह कलहंस' द्वारा किया जायेगा। यह जानकारी मध्यांचल डिस्काम के अध्यक्ष सर्वश्री जे पी मिश्र व महामंत्री पी सी श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से प्रेस को दी है।

मुख्य मुद्दा होगा

सम्मेलन में कारपोरेशन की पुनर्विचार याचिका खारिज होने के बाद उच्च न्यायालय के निर्णय के अनुपालन में 1970 का रेग्यूलेशन लागू करते हुए सभी आशुलेखकों को उनकी नियुक्ति तिथि से आशुलिपिक (खण्ड व मण्डल संवर्ग) का पदनाम तथा रू0 1350-2160 पुनरीक्षित 4500-7500 का वेतनमान जिसका वर्तमान ग्रेड वेतन 4200/- है, अनुमन्य कराया जाना मुख्य मुद्दा होगा। इसके अतिरिक्त आशुलेखकों की स्टेट लेवल कामन सीनियारिटी बनाते हुए एक डिस्काम से दूसरे डिस्काम में स्थानान्तरण का विकल्प प्रदान किया जाय।डिस्काम के मीडिया प्रभारी महेन्द्र प्रजापति ने बताया कि इस सम्मेलन में संघ के केन्द्रीय अध्यक्ष श्री वी०के०सिंह कलहंस के साथ केन्द्रीय उपाध्यक्ष सर्वश्री सतविन्दर सिंह व जे०सी० कलानी, केन्द्रीय महामंत्री शिवाजी तिवारी, कोषाध्यक्ष अरूण कुमार पाण्डेय, संयुक्त मंत्री श्रीमती मंजूरानी व शिवनरेश गौतम तथा संगठन मंत्री आर०एन०यादव व मीडिया प्रभारी श्रीमती वन्दना सिन्हा के अतिरिक्त कार्यकारिणी सदस्य श्रीमती मीनारानी शर्मा, वीरेन्द्र पाण्डेय, रिजवान हुसैन, राकेश बाजपेयी, राजेश तिवारी सहित मध्यालय डिस्काम के अधीनस्थ वितरण कार्यालयों में तैनात सैकड़ों आशुलेखक उपस्थित रहेगें ।सम्मेलन की द्वितीय बेला में मध्यांचल डिस्काम की नई कार्यकारिणी का गठन होगा।