यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

करवाचौथः सोलह श्रृंगार कर किया पति का दीदार


🗒 सोमवार, अक्टूबर 25 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
करवाचौथः सोलह श्रृंगार कर किया पति का दीदार

राजेश मिश्रा लखनऊ

लखनऊ

पूरे देश के साथ ही राजधानी लखनऊ में आज करवा चौथ का त्योहार रूम धाम से मनाया गया चांद की चांदनी को निहारने और अर्घ्य देने के लिए रविवार देर शाम जब सुहागिनें चमकते चेहरे लेकर छत पर पहुंचीं तो सुहाग का पर्व करवाचौथ का उत्साह चरम पर पहुंच गया। इस चांदनी रात में चांद का दीदार कर महिलाओं ने हाथ जोड़े। अर्घ्य देकर पूजा अर्चना की। इसके बाद पति के हाथों से पानी कर अपना व्रत खोला। इससे पहले महिलाओं ने करवा चौथ की परंपरागत कहानियां एक दूसरे को सुनाकर शिव-पार्वती, कार्तिकेय, गणेशजी की पूजा अर्चना कर अखंड सौभाग्यवती रहने की कामना की।देशभर में करवाचौथ का त्योहार हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। ऐसे में जिन नव विवाहित दंपतियों ने अपने पहले करवाचौथ को यादगार बनाया। इसे खास बनाने के लिए कई सारे प्रयत्न भी किए। नवविवाहित दंपतियों ने कहा कि पहला करवाचौथ उन्हें जीवनभर याद रहेगा। शादी करके दोनों ने मिलकर एक सफर शुरू किया है। जिसके पहले करवाचौथ वाले पड़ाव से गुजर रहे हैं।

अर्घ्य देते ही चला सेल्फी का दौर
चांद को जब सुहागिनों ने अपने घरों की छतों पर अर्घ्य दिया। वैसे ही सेल्फी लेने का दौर भी शुरू हो गया। सुहागिनों ने अपने पति, परिजनों के साथ फोटो खींचे। कई लोगों ने तो सोशल मीडिया पर अपने फोटो भी साझा किए।

पतियों ने दिए सरप्राइज गिफ्ट
पति की लंबी उम्र के लिए जब सुहागिनों ने निर्जला व्रत रखा। इसके बाद जब शाम को व्रत खोला तो पतियों ने भी अपनी पत्नियों को सरप्राइज गिफ्ट दिए। इनमें चॉकलेट, पर्स, रिंग, हार जैसी वस्तुएं थीं।
शहरों व कस्बों में हुई आतिशबाजी
जैसे ही महिलाओं का व्रत पूरा हुआ। चांद को अर्घ्य दिया वैसे ही शहर में जगह-जगह आतिशबाजी हुई। लोगों ने धूमधाम से जश्न मनाया।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» सॉल्वर गैंग के सरगना समेत चार अन्य सहयोगी भेजे गए जेल

» युवक को छः माह के लिए किया जिला बदर

» प्राइमरी स्कूलों के बच्चों के अभिभावकों को योगी सरकार देगी 1100 रुपये

» भाजपा सरकार में छांट-छांटकर कुछ लोगों को मिली नौकरी - शिवपाल

» यूपी के बेसिक शिक्षक व कर्मियों की समस्याएं सुलझाएगी उच्च स्तरीय समिति