यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बस ने दिव्यांग छात्रा को कुचला-मौत


🗒 बुधवार, नवंबर 17 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बस ने दिव्यांग छात्रा को कुचला-मौत

लखनऊ, । मोहान रोड स्थित डा. शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुर्नवास विश्वविद्यालय में बुधवार सुबह कृतिम अंग पुनर्वास केंद्र के पास बस चालक ने दिव्यांग छात्रा रुकसार को बस चालक ने कुचल दिया। हादसे में रुकसार की मौत हो गई। वह बीएक तृतीय सेमेस्टर की छात्रा थी और पुर्नवास केंद्र के पास अपनी सहपाठी के साथ खड़ी थी। घटना से आक्रोशित अन्य छात्रों ने 50 लाख रुपये मुआवजे, चालक की गिरफ्तारी और कुलपति को पद से हटाने की मांग को लेकर मोहान रोड पर जाम लगा दिया। छात्र करीब सात से आठ घंटे तक हंगामा और प्रदर्शन करते रहें।बिहार के गोपालगंज मेरालीपुर में रहने वाले राशिद आलम की 21 वर्षीय बेटी रुकसार के आंखे नहीं थीं। रुकसार डा. शकुतंला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विवि से बीए तृतीय सेमेस्ट की छात्रा थी। बुधवार सुबह वह सहपाठी निधि के साथ कृतिम अंग पुनर्वास केंद्र के पास खड़ी थी। इस दौरान विवि की बस का चालक करन बस बैक कर रहा था। बैक करते समय बस की टक्कर लगने से रुकसार गिर गई और बस के नीचे आने से गंभीर रूप से घायल हो गई। हादसे के बाद चालक बस छोड़कर भाग निकला। विवि प्रशासन के लोग छात्रा को आनन फानन अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां, डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। छात्रा की मौत से आक्रोशित दिव्यांग छात्रों ने करीब 11 बजे मोहान रोड पर सड़क जाम कर दी और हंगामा करने लगे। दिव्यांग छात्र सड़क पर लेट गए। विवि प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। बवाल की सूचना पर इंस्पेक्टर राजेश कुमार, एसीपी काकोरी आशुतोष कुमार, एसडीएम सदर प्रमोद कुमार पांडेय समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। पुलिस ने आक्रोशित छात्रों को समझाने का प्रयास किया पर सफलता नहीं मिली।विवि प्रशासन से कुलपति राणा कृष्ण पाल सिंह मौके पर पहुंचे उन्होंने भी समझाने का प्रयास किया पर सफल नहीं हुए। छात्र मंत्री को मौके पर बुलाने, मृतक आश्रित परिवार को 50 लाख रुपये मुआवजा, चालक की गिरफ्तारी और कुलपति को पद से हटाए जाने की मांग पर अड़े रहे। उधर, छात्रों ने छात्रा के घर वालों को सूचना दी। देर शाम तक छात्रा के घर वाले नहीं पहुंंचे थे। रात तक हंगामा चलता रहा। एसीपी आशुतोष कुमार ने बताया कि छात्रों को समझाने का प्रयास किया जा रहा है। विवि के प्राक्टर वीके सिंह की तहरीर पर बस चालक करन सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश में दबिश दी जा रही है।घटना से आक्रोशित छात्रोंं ने विवि के कुलपति पर लापरवाही का आरोप लगाया है। छात्रों के मुताबिक बस में विवि की ओर से कोई हेल्पर नहीं रखा गया है। हेल्पर अगर होता तो हादसा न होता। हेल्पर खिड़की पर रहता है। साइट देखकर गाड़ी को बैक कराने और आगे बढ़ाने में वह मदद करता है पर चंद रुपयों के लिए विवि प्रशासन द्वारा बस में हेल्पर नहीं रखा गया। हादसे के जिम्मेदार कुलपति हैं।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» शिवपाल सिंह यादव ने बेटे आदित्य को बनाया प्रसपा का प्रदेश अध्यक्ष

» श्रीकांत त्यागी को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को मिलेगा इनाम

» महिला कर्मचारी से दुष्कर्म का प्रयास

» पंखे से फंदा लगाकर युवती ने की खुदकुशी

» चोरों ने उड़ाया लाखों का माल, डीवीआर भी ले गए