यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

11 का बुक था योगी का टिकट, आज ही चले गए गोरखपुर - अखिलेश


🗒 शुक्रवार, जनवरी 14 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
11 का बुक था योगी का टिकट, आज ही चले गए गोरखपुर -  अखिलेश

लखनऊ, । मकर संक्रांति पर उत्तर प्रदेश की राजनीति में बड़े भूचाल का दावा कर रहे स्वामी प्रसाद मौर्य और डा. धर्म सिंह सैनी पिछले दिनों योगी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने के बाद शुक्रवार को भाजपा के पांच और अपना दल (एस) के एक विधायक सहित सपा में शामिल हो गए। पिछड़ा वर्ग के इन नेताओं का पार्टी में स्वागत करते हुए सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सत्ताधारी दल पर खूब तंज कसे। बोले कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का टिकट तो लोगों ने 11 मार्च का बुक कर रखा था, लेकिन वह आज ही गोरखपुर चले गए। यही नहीं, पार्टी मुख्यालय में उमड़े कार्यकर्ताओं के हुजूम को देख उत्साहित अखिलेश ने दोहराया कि भाजपा को इस बार तीन चौथाई नहीं, तीन-चार सीट मिलेंगी, जबकि सपा गठबंधन चार सौ सीटें जीत सकता है।पार्टी मुख्यालय परिसर में वर्चुअल रैली के नाम पर जुटाई गई हजारों की भीड़ को संबोधित करते हुए अखिलेश ने भाजपा के लिए इशारा करते हुए कहा कि उधर लगातार विकेट गिर रहे थे। हालांकि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ क्रिकेट खेलना नहीं जानते। खेलना जानते भी होते तो अब उनसे कैच छूट चुका है। स्वामी प्रसाद के दावे पर भरोसे की मुहर लगाई कि स्वामी जिस तरह चल देते हैं, उसकी सरकार बन जाती है। मुख्यमंत्री पर चुटकी ली कि उन्हें अब गणित अध्यापक रख लेना चाहिए। वह 80-20 की बात करते हैं। 80 प्रतिशत तो सपा के साथ पहले ही खड़े हो चुके, आज 20 प्रतिशत भी भाजपा के खिलाफ हो गए होंगे। अब भाजपा को तीन-चौथाई नहीं, बल्कि तीन-चार सीटें मिलेंगी, जबकि सपा गठबंधन 400 सीटें भी जीत सकता है। भाजपा पर प्रदेश को बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए अखिलेश बोले कि योगी फेल हो चुके हैं। अब दिल्ली से कितने भी नेता आ जाएं, उन्हें पास नहीं करा सकते।सपा मुखिया ने कहा कि अब साइकिल का हैंडल और दोनों पहिए भी ठीक हैं। पैडल मारने के लिए इतने कार्यकर्ता हैं। अब साइकिल की रफ्तार रुकने वाली नहीं है। कार्यकर्ता में उत्साह भरते हुए बोले कि किसी ने सोचा नहीं था कि चुनाव ऐसे होगा। फिर भी भाजपा वर्चुअल रूप से तैयार है तो सपा कार्यकर्ता वर्चुअल, डिजिटल और फिजिकल रूप से भी तैयार है। चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन करते हुए कार्यकर्ता भाजपा से फिजिकल मुकाबला करेंगे।स्वामी प्रसाद के बाद योगी सरकार के मंत्री दारा सिंह ने भी इस्तीफा दिया था, लेकिन वह शुक्रवार को सपा के मंच पर नहीं पहुंचे। बताया गया है कि वह रविवार को सपा में शामिल होंगे। वहीं, धौरहरा विधायक बाला प्रसाद अवस्थी का कहना है कि वह अपने क्षेत्र में हैं। अखिलेश से गुरुवार को ही मुलाकात कर चुके हैं। इनके अलावा स्वामी और धर्म सिंह सैनी के साथ विधायक डा. मुकेश वर्मा, विनय शाक्य, भगवती प्रसाद सागर, रोशनलाल वर्मा, ब्रजेश कुमार प्रजापति और अपना दल (एस) के विधायक चौधरी अमर सिंह, पूर्व विधायक अली यूसुफ अली, नीरज मौर्य, राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल, हरपाल सैनी, पूर्व मंत्री रामहेत भारती, अयोध्या पाल और विद्रोही धनपत राम मौर्य ने सपा की सदस्यता ली।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद लखनऊ दक्षिण छात्राओं ने पुलिसकर्मियों संग मनाया रक्षा बंधन

» भारत रत्न अटल की स्मृति में

» आज़ादी के अमृत महोत्सव पर तिरंगे रंग से सरोबार अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट

» गोली चलाने की घटना के फरार चल रहे दो आरोपि गिरफ्तार

» युवक पर नाबालिग बेटी को 5 घंटे तक गायब रखने का आरोप

 

नवीन समाचार व लेख

» अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद लखनऊ दक्षिण छात्राओं ने पुलिसकर्मियों संग मनाया रक्षा बंधन

» भारत रत्न अटल की स्मृति में

» आज़ादी के अमृत महोत्सव पर तिरंगे रंग से सरोबार अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट

» गोली चलाने की घटना के फरार चल रहे दो आरोपि गिरफ्तार

» युवक पर नाबालिग बेटी को 5 घंटे तक गायब रखने का आरोप