यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

भीम आर्मी के चंद्रशेखर का भी सपा के साथ गठबंधन का एलान


🗒 शुक्रवार, जनवरी 14 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
भीम आर्मी के चंद्रशेखर का भी सपा के साथ गठबंधन का एलान

लखनऊ, । उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान से पहले ही विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ एकजुट हो रहे हैं। लखनऊ में शुक्रवार को स्वामी प्रसाद मौर्य व धर्म सिंह सैनी के छह विधायकों के साथ सपा में शामिल होने से पहले भीम आर्मी के चंद्रशेखर ने भी अखिलेश यादव से मुलाकात की थी।समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से शुक्रवार को दूसरी भेंट के बाद भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर ने बड़ी घोषणा कर दी। चंद्रशेखर ने कहा कि हमने भी इस विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया है। हम इस गठबंधन के बाद अब भाजपा को हराएंगे। जल्दी ही अखिलेश यादव के साथ मिलकर सीटें भी तय कर लेंगे। समाजवादी पार्टी के साथ भीम आर्मी का गठबंधन हो गया है।चंद्रशेखर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दलित वर्ग में बड़ी पकड़ रखते हैं। युवा नेता के रूप में विख्यात चंद्रशेखर लखनऊ से लेकर मेरठ तथा सहारनपुर में काफी एक्टिव हैं। वह कांग्रेस के साथ भी सम्पर्क में थे। इसके बाद समाजवादी पार्टी के साथ उनकी गठबंधन की बात काफी समय से चल रही थी। उनका सपा के साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुछ सीटों को लेकर पेंच फंसा है। समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन में पिछड़े वर्ग के बड़े चेहरे तो हैं, लेकिन दलित वर्ग के बड़े चेहरे की कमी को चंद्रशेखर की पार्टी के गठबंधन ने पूरा कर दिया है। चंद्रशेखर की पार्टी के साथ गठबंधन को समाजवादी पार्टी तो बसपा की काट भी मान रही है।अखिलेश यादव से भेंट के बाद भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर ने कहा कि एकता में बड़ा दम है। मजबूती और एकता के बगैर भाजपा और बसपा को हराना आसान नहीं है। गठबंधन के अगुवा का दायित्व होता है कि वो सभी समाज के लोगों के प्रतिनिधित्व और सम्मान का खयाल रखें। दलित वर्ग अखिलेश यादव से इस जिम्मेदारी को निभाने की अपेक्षा रखता है।