यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मासूम का गला दबाकर फंदे पर लटकी मां, दोनो की मौत


🗒 बुधवार, अप्रैल 20 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मासूम का गला दबाकर फंदे पर लटकी मां, दोनो की मौत

महोबा,। चरखारी कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सबुआ में दो साल के मासूम की गला दबा कर हत्या करने के बाद मां ने साड़ी से फंदा लगा कर जान दे दी। पति जब घर लौटा तो घटना की जानकारी हो सकी। पति की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़ कर फंदे से महिला का शव नीचे उतारा गया। बच्चे का शव चारपाई पर पड़ा था। मूलरूप से कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सबुआ निवासी 27 वर्षीय रविंद्र यादव चरखारी कस्बा के छोटा रमना मोहल्ला में किराए का कमरा लेकर रहता था। तीन साल पहले उसकी शादी सरीला में 25 वर्षीय सपना के साथ हुई थी। पति-पत्नी अपने दो साल के बेटे बाबू के साथ चरखारी में ही रह रहे थे। रविंद्र ने एक साल पहले कार खरीदी थी, जो कि किराए पर चला कर परिवार का भरण पोषण करता था। माता-पिता गांव में ही रह कर खेती किसानी देखते थे। रविंद्र और उसकी पत्नी मंगलवार को ही गांव गए थे। बुधवार को रविंद्र कार बुकिंग में लेकर बाहर गया था। माता-पिता भी खेत पर थे। इधर घर में पत्नी अपने दो साल के बच्चे के साथ थी। दोपहर बाद रविंद्र जब घर लौटा तो कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। खिड़की से झांक कर देखा तो पत्नी का शव फंदे से लटका हुआ था। उसने घटना की जानकारी पड़ोसियों को दी और पुलिस को फोन कर सूचना दी।कोतवाली प्रभारी उमापति मिश्र फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और दरवाजा तोड़ कर देखा तो मासूम का शव चारपाई पर पड़ा था। महिला को फंदे से नीचे उतारा गया, उसकी भी मौत हो चुकी थी। घटना स्थल पर सीओ तेजबहादुर सिंह, तहसीलदार, एसडीएम मौजूद हैं। सीओ ने कहाकि कि प्रथम दृष्टया महिला ने पहले बच्चे का गला दबा कर मारा फिर स्वयं साड़ी का फंदा लगा कर जान दे दी, फिलहाल हर बिंदु पर जांच की जा रही है। घटना की तहरीर पति ने दी है।

महोबा से अन्य समाचार व लेख

» धूम-धाम से मनाई गयी परशुराम जी की जयंति

» थाना कबरई पुलिस ने अवैध रायफल व जिन्दा कारतूस सहित आरोपित को पकड़ा

» परशुराम जयंति कार्यक्रम का हुआ आयोजन

» उप मुख्यमंत्री की चौखट पहुंच समाजसेवी ने उठाई जिला अस्पताल की दुरस्ती की मांग

» महोबा -मेरा गाँव मेरी धरोहर के अंतर्गत ग्राम पंचायतों के सांस्कृतिक धरोहरों का सर्वे शूरू