यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उम्रकैद की सजा काट रहे कैदी रस्सी छुड़ा ट्रेन से कूदकर भागे कैदी से मुठभेड़, पैर में लगी गोली


🗒 शुक्रवार, अगस्त 09 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहा कैदी कानपुर से उपचार कराके लौटते समय ट्रेन से कूदकर टीकामऊ के जंगलों में भाग निकला। सिपाहियों की सूचना पर पुलिस ने जंगल की घेराबंदी की तो कैदी ने फोर्स पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। बचाव में पुलिस ने भी फायरिंग की, जिससे एक गोली कैदी के पैर में लगी और वह गिर पड़ा। इसके बाद पुलिस उसे देर रात जिला अस्पताल लाई जहां से उसे झांसी रेफर कर दिया गया।कोतवाली थाना क्षेत्र के कहरहा कला निवासी मदन पाल कुशवाहा हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहा है। हाथ में तकलीफ की शिकायत पर डाक्टरों ने उसे कानपुर रेफर किया था। सिपाही गुरुवार को उसका चेकअप करा रात 10 बजे आने वाली कानपुर पैसेंजर से वापस लौट रहे थे। टीकामऊ के पास ट्रेन की रफ्तार कम होते ही मदन रस्सी छुड़ा कर ट्रेन से कूदकर भाग निकला।सिपाहियों ने कोतवाली में तुरंत इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंचे फोर्स ने टीकामऊ जंगल घेर कर तलाश शुरू की तो मदन ने फोर्स पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। इस पर पुलिस ने भी फायरिंग की जिससे एक गोली उसके पैर में लगी और वह घायल होकर गिर पड़ा। पुलिस ने उसे जिला अस्पताल पहुंचाया जहां से झांसी रेफर कर दिया गया। कोतवाली इंस्पेक्टर विपिन त्रिवेदी के अनुसार देर रात तक चले सर्च आपरेशन में मदन को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया।करहरा कला निवासी मदन पाल स्कार्पियो चलाता था। 7 फरवरी 2018 को गांव के ही 23 वर्षीय मनोज, उसके जीजा ऐंचाना थाना खरेला निवासी 29 वर्षीय अखिलेश कुशवाहा और उनके दोस्त मदन की स्कार्पियो बुक कराके बरात में मुढ़ारा मप्र थे। शादी से लौटते समय मनोज, अखिलेश, विजय व गगौरा पनवाड़ी निवासी मुन्ना समेत 9 लोग स्कार्पियो से वापस आ रहे थे। देर रात सभी महोबा पहुंचे तो गल्ला मंडी के पास स्कार्पियो चालक मदन पाल ने बुकिंग के पैसे मांगे। युवकों ने उन्हें गांव छोडऩे और वहीं पर पैसे देने की बात कही। मदन पहले पैसे देनेे की बात पर अड़ गया।विवाद बढऩे पर मदन ने सभी को स्कार्पियो से उतार दिया तो वे पैदल जाने लगे। मदन ने गाड़ी स्टार्ट कर कीरतसागर के पास मनोज व उसके जीजा अखिलेश पर गाड़ी चढ़ा दी और रौंदता हुआ भाग निकला। दोनों की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने कुछ दिनों बाद मदन को गिरफ्तार कर लिया। तत्कालीन जनपद न्यायाधीश महताब अहमद ने दोष सिद्ध होने पर 6 जून 2019 को चालक मदन को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। 

उम्रकैद की सजा काट रहे कैदी  रस्सी छुड़ा ट्रेन से कूदकर भागे कैदी से मुठभेड़, पैर में लगी गोली

महोबा से अन्य समाचार व लेख

» श्रद्धा भाव से प्रशासन की मौजूदगी में किया गया गणपति बब्बा का मूर्ति विसर्जन

» आकाशीय बिजली गिरने से एक युवक सहित2बकरियो की मौत

» खरेला पुलिस ने अपराधी को पकड़ कर भेजा जेल

» मिनी बिंद्रावन कहलाने वाली चरखारी में भी हर वर्ष की भांति निकाले गए जलविहार

» गोल्डन कार्ड कैंप का किया जा रहा आयोजन, ग्राम पंचायतों में लगाए जा रहे कैंप

 

नवीन समाचार व लेख

» सरकारी खजाने से भरा जाता है CM, मंत्रियों का आयकर

» उन्नाव हिन्दुस्तान पेट्रोलियम गैस प्लांट को हटाने को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश

» जन्मस्थान को न्यायिक व्यक्ति मानने के लिए क्या जरूरी है, मुस्लिम पक्ष से सुप्रीम कोर्ट का सवाल

» UP के निवासियों को मिल रही सबसे महंगी बिजली

» मुख्यमंत्री योगी ने लिया फैसला...अब UP सरकार नहीं भरेगी मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों के वेतन पर आयकर