यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

विकास कार्याे के लिए मुख्य सचिव को पालिकाध्यक्ष प्रतिनिधि ने सौपा ज्ञापन


🗒 शनिवार, अगस्त 01 2020
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड

नगर की समस्याओं तथा जिला अस्पताल में डाक्टरो की नियुक्ति की करी मांग
- एतिहासिक धरोहरो को पर्यटन के आधार पर कायाकल्प करने की मांगी स्वीकृति

महोबा, मोहम्मद आजाद चैधरी। वीरो की नगरी महोबा को एतिहासिक नगरी के रूप में भी जाना जाता है। यूपी एमपी सीमा पर स्थित महोबा जनपद जिसका सृजन वर्ष 1995 में हुआ था। महोबा नगर गुरू गोरखनाथ की तपोस्थली के रूप में जाना जाता है। नगर के मध्य में स्थित गोरखागिरि पर्वत पर ही गुरू गोरखनाथ ने अपने शिष्यों के साथ साधना की थी। साथ ही यह चन्देलकालीन ऐतिहासिक नगर है। जिसके प्रमाण भी मौजूद है परन्तु एतिहासिक स्थानो पर पर्यटन की उचित व्यवस्था न होने के कारण सूना प्रतीत होता है। जिसके कायाकल्प तथा पर्यटन को बढावा देने के लिए पालिकाध्यक्ष प्रतिनिधि सौरभ तिवारी ने प्रमुख सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी को महोबा की एतिहासिक एवं पावन स्थानो पर निर्माण कार्य कराने के लिए मांग पत्र सौपा है। जिसमें प्रमुख सचिव से मांग की गई है कि गुरू गोरखनाथ की तपोस्थली गोरखागिरि (गोखार पहाड़) का पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाना, गोरखागिरि के पास प्रस्तावित शिवताण्डव पार्क का निर्माण कार्य, बड़ी चन्द्रिका मन्दिर से छोटी चन्द्रिका मन्दिर तक मार्ग का निर्माण, नगर की आबादी एवम् सीमाओं में वृद्धि हो जाने के कारण नगर के वाह्य क्षेत्र से बाईपास (राष्ट्रीय राजमार्ग-86 से राष्ट्रीय राजमार्ग-339) सड़क का निर्माण। जिला चिकित्सालय में स्वीकृत पदों के सापेक्ष चिकित्सकों की नियुक्ति। जिला चिकित्सालय एवम् नगर के अन्य भागों में जल भराव की समस्या के स्थायी रूप से निदान हेतु नगर में सीवर लाइन सहित अनेको समस्याओं के निराकरण की मांग की है।

विकास कार्याे के लिए मुख्य सचिव को पालिकाध्यक्ष प्रतिनिधि ने सौपा ज्ञापन

महोबा से अन्य समाचार व लेख

» महोबा-महोबकंठ व कुलपहाड़ पुलिस ने दबोचे वांछित

» महोबा-सक्रियता के साथ एण्टी रोमियो टीम कर रही लोगो केा जागरूक

» महोबा-सपा से जुड़े आधा सैकड़ा से अधिक नवीन कार्यकता

» महोबा-महामारी के कारण नहीं आयोजित होगा कजली महोत्सव-डीएम

» नहीं रहे प्रसिद्ध कवि वीरेन्द्र सिंह जागीरदार, शोक का माहौल

 

नवीन समाचार व लेख

» महोबा-सक्रियता के साथ एण्टी रोमियो टीम कर रही लोगो केा जागरूक

» महोबा-सपा से जुड़े आधा सैकड़ा से अधिक नवीन कार्यकता

» महोबा-महामारी के कारण नहीं आयोजित होगा कजली महोत्सव-डीएम

» नहीं रहे प्रसिद्ध कवि वीरेन्द्र सिंह जागीरदार, शोक का माहौल

» विकास कार्याे के लिए मुख्य सचिव को पालिकाध्यक्ष प्रतिनिधि ने सौपा ज्ञापन