यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

महोबा-अधिवक्ता समिति ने शुरू किया अनिश्चित कालीन क्रमिक अनशन


🗒 शुक्रवार, अक्टूबर 30 2020
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
महोबा-अधिवक्ता समिति ने शुरू किया अनिश्चित कालीन क्रमिक अनशन


- पारिवारिक न्यायालय को लेकर शुरू किया अनशन

महोबा। पारिवारिक न्यायालय की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन में जिले के अधिवक्ता कचहरी परिसर में बैठ गए है। अधिवक्ताओं कि मांग है कि परिवार न्यायालय को यथा स्थान ही रहने दिया जाए गौरतलब हो कि प्रशासन ने कलेक्ट्रेट परिसर के बगल में परिवार न्यायालय  को स्थानांतरण करने के लिए कहा पर जिले की अधिवक्ता समिति ने इस आदेश को नहीं मानने के लिए  अनिश्चितकालीन अनशन प्रारंभ कर दिया है वही अधिवक्ता समिति के अध्यक्ष ने कहा कि अभी कलेक्ट्रेट जाने में आम जनमानस का पसीना निकल आता है और साथ ही 40 से 50 रुपए तक उसके एक बार में आने जाने में खर्च हो जाते हैं अगर परिवार न्यायालय को वहां पर पहुंचाया गया तो गरीब जनमानस को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। साथ ही किसी के साथ भी रास्ते में अप्रिय घटना भी घट सकती है क्योंकि अभी वहां तक जाने के लिए संसाधनों की व्यवस्था सही ढंग से नहीं है। पारिवारिक न्यायालय को यथा स्थान रखा जय। अधिवक्ताओं ने कहा कि अगर प्रशासन हमारी मांगो  को नहीं माना गया तो अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन जारी रहेगा वही अनशन के दौरान समिति के तमाम अधिवक्ता मौजूद रहे।

 
 

महोबा से अन्य समाचार व लेख

» प्रधानमंत्री के द्वारा आम जनमानस की पानी की समस्याओं को दूर करने के लिए योजनाएं चलाई जाने की बात कही गई

» महात्मा गांधी के सामाजिक और राजनीतिक जीवन के सम्बन्ध में निबंध प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

» राहुल पांडेय ने संभाला पनवाड़ी खंड विकास अधिकारी का चार्ज

» किसान गोष्ठी के आयोजन में अन्नदाताओ को दी जरूरी जानकारी

» संचारी रोग से बचाव हेतु आशा बहुओं को दिये निर्देश