बांदा-धान खरीद केन्द्रों में हो रहा किसानों का शोषण

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बांदा-धान खरीद केन्द्रों में हो रहा किसानों का शोषण


🗒 शुक्रवार, जनवरी 22 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
बांदा-धान खरीद केन्द्रों में हो रहा किसानों का शोषण


क्रासरःटोकन मिलने के बाद नहीं बिकती धान
अतर्रा/बांदा। सरकारी क्रय केंद्रों में धान विक्रय का टोकन मिलने के बाद भी हफ्तों से किसानों के धान की तौल नहीं हो सकी । गुरुवार को एफसीआई केंद्र में बारी का इन्तजार कर रहे किसानो का सब्र टूट गया । परेशान किसानों ने जमकर हंगामा किया । उप जिलाधिकारी कार्यालय पहुंच कर शीघ्र तौल कराए जाने की मांग की । मंडी परिसर से हो रही धान चोरी पर रोक लगाने की भी मांग किया।
मंडी परिसर में संचालित एफसीआई क्रय केंद्र में धान विक्रय का टोकन होने के बाद भी किसान अपनी फसल बेचने के लिए हफ्तों से पडे हुए हैं, जिनका धैर्य गुरुवार को जवाब दे गया ।सभी किसानों ने केंद्र में जमकर हंगामा काटा । तहसील पहुंच कर सभी किसानों नें बिचैलियों से खरीद केंद्रों को मुक्त कराने की मांग उपजिलाधिकारी के समक्ष रखा ,तथा लचर सुरक्षा व्यवस्था के कारण अज्ञात चोरों द्वारा बोरों से धान निकालकर हाथ साफ कर रहे हैं । किसानों ने चोरों पर कार्यवाही की मांग किया । एफसीआई क्रय केंद्र से केंद्र प्रभारी के कई दिनों से नदारद होने का आरोप लगाया है। शीघ्र तौल कराए जाने की मांग की। प्रदर्शन के दौरान किसान धर्मेंद्र अवस्थी (आऊ) विजयकांत मिश्रा लल्लू (पिंडखर) यशोदा (खम्हौरा )गप्पू सुरेश कुमार (तेरा बा )रामपाल, मनरखन ,जयकरण दीक्षित, सावित्री आदि लोग मौजूद रहे।
उप जिलाधिकारी जेपी यादव ने किसानों की समस्याओं को देखते हुए एएमओ समीर शुक्ला सहित केंद्र प्रभारी तथा मिलर्स के साथ बैठक कर शीघ्र समस्या का निदान कराने की बात कही है ।

बांदा से अन्य समाचार व लेख

» अतर्रा-वाईक अनियंत्रित होने से चालक गम्भीर रूप से हुआ घायल

» अतर्रा-पहले दिन अधिवक्ता संघ चुनाव के लिए 5 ने विभिन्न पदों पर दाखिल किये पर्चे

» पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए तत्पर है जनसाहस संस्थाः धर्मेन्द्र परमार

» 5 मार्च को आयेंगी भाजपा की प्रदेश महामंत्री

» मार्ग हादसे में दूल्हे के भाईयों की दर्दनाक मौत