यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गर्भवती के लिए सुरक्षा कवच के समान है कोविड का टीका


🗒 रविवार, अगस्त 08 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
गर्भवती के लिए सुरक्षा कवच के समान है कोविड का टीका


- एनटीएजीआई की रिपोर्ट में टीका पूर्णतः सुरक्षित
- कार्यशाला में गर्भवती के टीकाकरण पर मंथन

महोबा। कोरोना की संभावित तीसरी लहर व कोरोना के बदलते स्वरूप से हर किसी को महफूज बनाने को लेकर सरकार पूरी तरह से प्रयासरत है। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार सभी को कोविड टीका लगवाने पर जोर दे रही है। अब गर्भवती भी यह टीका लगवा सकती हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इस बारे में गाइडलाइन जारी की है। गर्भवती व उनके गर्भस्थ शिशु के लिए यह टीका सुरक्षा कवच से कम नहीं है। यह बातें सीएमओ सभागार में महिलाओं के टीकाकरण को लेकर हुई एक दिवसीय कार्यशाला में जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. जीआर रत्मेले ने कहीं। डॉ. रत्मेले ने कहा कि गर्भावस्था के शुरुआती माह से प्रसव होने तक कभी भी कोविड का टीका लगवाया जा सकता है। इसके अलावा ऐसी गर्भवती जो बीपी, शुगर, क्लोटिंग व अन्य गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं, उन्हें कोरोना का खतरा सबसे ज्यादा है। यह टीका गर्भवती और उनके होने वाले शिशुओं के लिए सुरक्षित है। उन्होंने बताया कि नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप आफ इम्युनाइजेशन (एनटीएजीआई) ने अपनी रिपोर्ट में टीके को गर्भवती व उसके शिशु के लिए पूर्णतः सुरक्षित बताया है। डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डा. आसिम ने कहा कि वैसे तो कोविड-19 वायरस सभी उम्र के लोगों के लिए खतरनाक है, लेकिन गर्भवती व गर्भ में पल रहे शिशु के लिए यह काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है। कोरोना का टीका दोनों के लिए सुरक्षा कवच का काम करेगा। कार्यशाला में जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा.आरपी मिश्रा, डा.एसके वर्मा, डा. सुशील खरे, वीसीसीएम संदीप पराशर सहित सभी चिकित्सा प्रभारी शामिल रहे।
इन्सेट
शिशु को मिलती है एंटीबाडी
महोबा। जिला अस्पताल में बाल रोग विशेषज्ञ/मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. आरपी मिश्रा ने बताया कि प्लेसेंटा के जरिए दवा बच्चों को पहुंचती है। इसलिए गर्भवती को टीका लगने से इसका असर बच्चे में होता है। गर्भवती के साथ शिशु में भी एंटीबाडी पाई जाती है। इसके अलावा स्तनपान कराने वाली महिलाएं भी बिना संकोच के टीका लगवाएं। टीकाकरण से ही कोरोना की चेन को तोड़ा जा सकता है।

 

महोबा से अन्य समाचार व लेख

» उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा घरेलू, किसानों एवं वाणिज्यिक विद्युत उपभोक्ताओं के लिए लाई गई

» किसानो की समस्याओ के निस्तारण के लिए किसान महापंचायत का हुआ आयोजन

» मां काली की मूर्ति विसर्जन को लेकर जैतपुर में रही कड़ी सुरक्षा व्यवस्था’

» मईयाजी की जय-जयकार के नारे से गूंज उठा बुन्देली कश्मीर

» मूर्ति विसर्जन स्थलो का क्षेत्राधिकारी ने किया निरीक्षण