यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मईयाजी की जय-जयकार के नारे से गूंज उठा बुन्देली कश्मीर


🗒 रविवार, अक्टूबर 17 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
मईयाजी की जय-जयकार के नारे से गूंज उठा बुन्देली कश्मीर


- भक्तो ने नम आंखो से मातारानी को दी विदाई तथा अगले वर्ष शीघ्र आने की करी कामना
- भक्ति भाव से भक्तो ने विधि विधान के साथ पूजा अर्चना करते हुये मातारानी का किया विसर्जन

चरखारी/महोबा। देवी माता की स्थापना करना जितना आसान होती है उतना ही मुश्किल 9 दिनो तक पूजा अर्चना के बाद विसर्जन करना। अपनी माता के स्वरूप 9 दिनो तक सेवा तथा पूजा अर्चना करने के बाद देवी मां का विसर्जन करना कितना मुश्किल होता है इसका अंदाजा लगा पाना बेहद कठिन है। विसर्जन दौरान भक्तो की आंखो में आंसू थे तो वहीं अगले वर्ष पुनः और भी उत्साह तथा उमंग के साथ वापस आने की प्रार्थना थी। 9 दिनो तक पूरे जनपद में मातारानी के जयकारो तथा उनके भजनो से भक्तिमय रहा वातावरण अब सूना सा दिखाई देने लगेगा। नवरात्रि के पूर्ण होते ही भक्तो ने भव्य रूप से मातारानी की अंतिम आरती करते हुये नम आंखो से उनकी विदाई की। इस दौरान छोटे बच्चो से लेकर बुजुर्गो ने मातारानी से अगले वर्ष जल्दी आने की कामना करी। मातारानी के अंतिम दर्शन को उमड़े भक्तो ने मातारानी की अराधना की और उनको अलग-अलग प्रकार के वाहनो के माध्यम से विसर्जन स्थल तक ले जाया गया। इस दौरान मां के जयकारो के साथ पूरा जनपद गूंज उठा तो वहीं मातारानी से हर मनोकामना पूरी करने की भक्तो ने कामना की। मुख्यालय सहित चरखारी, कुलपहाड़, कबरई, खरेला, श्रीनगर सहित सभी नगरो गांवो में पंडालो में रखी गई बड़ी ही श्रद्धाभाव से मातारानी की प्रतिमा को विसर्जित किया गया। इसके पहले शुक्रवार की देर शाम को भक्तो ने जवारे निकाले गये और भक्ति अराधना के साथ जवारो को तालाब में समर्पित किया गया। इस दौरान नवदिन व्रत रखे श्रद्धालुओ ने जवारो को देखने के उपरान्त रात्रि में अपना व्रत तोड़ा तथा मातारानी से हर मनोकामना पूरी करने की दुआएं मांगी। इसी क्रम में विसर्जन स्थल पर भारी पुलिस बल भी मौजूद रहा जहां पर पुलिस कर्मियो ने क्रमवार रूप से देवी मां की प्रतिमा को विसर्जित करने के लिए प्रेरित करते हुये शान्ति रूप से मूर्ति को विसर्जित कराने में मदद की।

 

महोबा से अन्य समाचार व लेख

» किसानो की समस्याओ के निस्तारण के लिए किसान महापंचायत का हुआ आयोजन

» मां काली की मूर्ति विसर्जन को लेकर जैतपुर में रही कड़ी सुरक्षा व्यवस्था’

» मूर्ति विसर्जन स्थलो का क्षेत्राधिकारी ने किया निरीक्षण

» मूर्ति विसर्जन स्थल का निरीक्षण कर डीएम ने दिये जरूरी निर्देश

» योजना से बने खेत तालाब का निरीक्षण करने पहुंचे मुख्य सचिव

 

नवीन समाचार व लेख

» मां काली की मूर्ति विसर्जन को लेकर जैतपुर में रही कड़ी सुरक्षा व्यवस्था’

» मईयाजी की जय-जयकार के नारे से गूंज उठा बुन्देली कश्मीर

» मूर्ति विसर्जन स्थलो का क्षेत्राधिकारी ने किया निरीक्षण

» मूर्ति विसर्जन स्थल का निरीक्षण कर डीएम ने दिये जरूरी निर्देश

» योजना से बने खेत तालाब का निरीक्षण करने पहुंचे मुख्य सचिव