यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मां काली की मूर्ति विसर्जन को लेकर जैतपुर में रही कड़ी सुरक्षा व्यवस्था’


🗒 रविवार, अक्टूबर 17 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
मां काली की मूर्ति विसर्जन को लेकर जैतपुर में रही कड़ी सुरक्षा व्यवस्था’


- श्रद्धालुओं ने नम आंखों से मां काली को दी विदाई

जैतपुर/महोबा। शनिवार को जैतपुर में मां काली की मूर्ति विसर्जन को लेकर सुरक्षा व्यवस्था के बेहद कड़े इंतजाम किए गए। विसर्जन यात्रा के दौरान मुख्य मार्ग से निकलने वाले ट्रैफिक को अन्य मार्गो से डायवर्ट किया गया। ताकि विसर्जन यात्रा के दौरान किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना ना करना पड़े। मां काली की विसर्जन यात्रा जैतपुर के खटिकयाना मुहाल से निर्धारित समय से पूजा अर्चना के बाद प्रारंभ हुई। विसर्जन यात्रा बजरिया, चमन चैराहा, पुलिस चैकी, मुख्य बाजार, ड्योढ़ीपुरा व श्रीनगर तिराहा होती हुई लमौरा रोड स्थित बेलासागर तालाब घाट पहुंची। यात्रा के दौरान सैकड़ों श्रद्धालु मां के गगनभेदी जयकारे लगाते हुए चल रहे थे और मां के भक्त यात्रा मार्ग में झाड़ू लगाकर जल छिड़काव कर पुष्प वर्षा कर रहे थे। मां काली की विसर्जन यात्रा देखने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी और श्रद्धालुओं ने मां की पूजा अर्चना कर परिवार के सुख समृद्धि की कामना की। यात्रा के दौरान पुलिस व पीएसी के जवान पूरी तरह से अलर्ट नजर आए और कोतवाली प्रभारी कुलपहाड़ एसएचओ महेंद्र प्रताप सिंह पुलिस बल के साथ घूम घूम कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहे। मां काली की विसर्जन यात्रा के बाद जैतपुर के विभिन्न स्थानों में स्थापित अन्य देवी प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। मां की विसर्जन यात्रा के दर्शन करने के लिए सैकड़ों श्रद्धालु उमड़ पड़े।

 

महोबा से अन्य समाचार व लेख

» किसानो की समस्याओ के निस्तारण के लिए किसान महापंचायत का हुआ आयोजन

» मईयाजी की जय-जयकार के नारे से गूंज उठा बुन्देली कश्मीर

» मूर्ति विसर्जन स्थलो का क्षेत्राधिकारी ने किया निरीक्षण

» मूर्ति विसर्जन स्थल का निरीक्षण कर डीएम ने दिये जरूरी निर्देश

» योजना से बने खेत तालाब का निरीक्षण करने पहुंचे मुख्य सचिव